पटना में उपेंद्र कुशवाहा की अगुआई में महागठबंधन का प्रदर्शन आज, मांझी होंगे शामिल,निगाहें तेजस्वी पर

0
43

महागठबंधन का धरना-प्रदर्शन बुधवार को राजधानी सहित सभी जिला मुख्यालयों में किया जा रहा है. प्रदर्शन में कांग्रेस, रालोसपा, वीआइपी के साथ मांझी व राजद के कार्यकर्ता भी भाग लेंगे. रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन कर दावा किया कि बुधवार को सभी जिलों में होने वाले धरना-प्रदर्शन में सभी पार्टियों के लोग शामिल होने पर फाइनल स्वीकृति दे दी है.
पटना के गांधी मैदान स्थित गांधी मूर्ति से ये विरोध मार्च 12 बजे निकलेगा जिसकी अगुआई पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा करेंगे लेकिन सभी की निगाहें कार्यक्रम में तेजप्रताप -तेजस्वी की मौजूदगी पर टिकी हैं. दरअसल हाल के दिनों में उपचुनाव के दौरान मची खींचतान के बाद ये पहला मौका होगा जब महागठबंधन ने साझा कार्यक्रम का आयोजन किया है.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि युवाओं में बेरोजगारी, महिला की सुरक्षा, खराब शिक्षा व्यवस्था, कृषि रोडमैप लागू नहीं होने के विरोध में प्रदर्शन किया जायेगा. महागठबंधन के समर्थन में वाम दलों को भी शामिल होने की बात कही है. उन्होंने कहा कि दिन प्रति दिन देश व राज्य की खराब हो रही स्थिति के विरोध में पहले ही प्रदर्शन का कार्यक्रम तय कर लिया गया था.

यह भी पढ़े  JEE Advanced Results: सुपर 30 ने फिर लहराया सफलता का परचम ,

रालोसपा अध्यक्ष ने बताया कि दिन के लगभग 12 बजे गांधी मैदान स्थित गांधी मूर्ति के पास से आक्रोश मार्च शुरू होकर कलेक्ट्रेट परिसर तक जायेगा. प्रदर्शन में उनके साथ मांझी, मुकेश सहनी, कांग्रेस व राजद के अलावा वाम दल के नेता मौजूद रहेंगे. राज्य में सत्ता परिवर्तन को लेकर जनता मन बना चुकी है. हम लोग जनता के मुद्दों के साथ मैदान में खड़े हैं.

लेफ्ट को भी न्योता

वामदलों के साथ मिलकर महागठबंधन ने इसे राज्यव्यापी धरना प्रदर्शन बताया तो है लेकिन इस बात को लेकर आशंका अभी भी बनी हुई है कि पूरा महागठबंधन इस विरोध-प्रदर्शन में शामिल होगा. इस कार्यक्रम की पहल पूर्व केंद्रीय मंत्री और रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने की है और इस आयोजन को सफल बनाने के लिए महागठबंधन में शामिल सभी घटक दलों के अलावा वामदलों को भी न्योता दिया है.

सवाल राजद और तेजस्वी की मौजूदगी को लेकर

सबसे बड़ा सवाल ये है कि महागठबंधन का सबसे बड़ा दल यानी राजद का अहम चेहरा तेजस्वी यादव इस प्रदर्शन में शामिल होते हैं या नहीं. तेजस्वी यादव अभी भी दिल्ली में हैं. आरजेडी सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है कि उसके मुताबिक वो आज पटना जरूर आएंगे क्योंकि बुधवार को ही आरजेडी के संगठनात्मक चुनाव के लिए राज्य स्तरीय बैठक है जिसकी अध्यक्षता तेजस्वी यादव को ही करनी है.

यह भी पढ़े  भूमि सुधार से आयेगी राज्य में शांति : मुख्यमंत्री

कांगेस, हम और वीआईपी की समर्थन

विपक्ष की पार्टियों की बात करें तो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने अपनी पार्टी के जिलाध्यक्षों को आज के इस धरना प्रदर्शन में शामिल होने का निर्देश दिया है वहीं पूर्व सीएम जीतन राम मांझी समेत वीआईपी पार्टी के नेता मुकेश साहनी भी इस धरना कार्यक्रम में शामिल होंगे. धरना प्रदर्शन का मुख्य मकसद सरकार को घेरना है लेकिन इस मंच के माध्यम से बिहार में विपक्षी दलों की एकजुटता का रियलिटी टेस्ट भी होना है.

मांझी मानें, प्रदर्शन में लेंगे भाग

इधर, हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने भी प्रदर्शन में भाग लेने की स्वीकृति दे दी है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बीएल वैस्यंत्री ने बताया कि मांझी का कार्यक्रम बुधवार तक दिल्ली में तय था. लेकिन मंगलवार को दोपहर में सूचना मिली है कि शाम तक मांझी आ जायेंगे और बुधवार को प्रदर्शन में भाग लेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here