देश में सबसे बड़े खादी मॉल का आज सीएम नीतीश करेंगे उद्घाटन

0
211
आज फैशन के युग में भले ही बाजार में कई फैशनेबल ड्रेसेज उपलब्ध हो, लेकिन खादी के कपड़ों की बात ही अलग होती है. खादी के इस आकर्षण को व्यापक रूप देने के लिए आज यानी पांच नवंबर को गांधी मैदान स्थित अनोखे खादी मॉल की शुरुआत होगी.
चार फ्लोर पर बने इस मॉल के ग्राउंड फ्लोर में पहले सेक्शन में खादी और सिल्क की साड़ियां मिलेंगी, जिनमें कॉटन के भी कई कलेक्शन मौजूद है. इसके साथ ही खादी व सिल्क से बने सूट के कपड़े, लेडिज वियर कुर्ती के कई डिजाइन उपलब्ध है. फर्स्ट फ्लोर की बात करें, तो इसमें मेंस वियर कुर्ता, बंडी और सिल्क और खादी में विभिन्न प्रकार के कपड़े हैं. इसके अलावा तसर सिल्क, मटका सिल्क, कॉटन सिल्क और खादी में थान के कपड़ों में भी कई रंगों का कलेक्शन मौजूद है, जिसे लोग अपने  जरूरत और पसंद के अनुसार खरीद सकेंगे.
इसके अलावा थर्ड फ्लोर पर हैंडी क्राफ्ट आइटम मिल रखा गया है. इनमें जूट आर्ट, वुड आर्ट के अलावा मधुबनी पेंटिंग के कई डिजाइन हैं. इतना ही नहीं मॉल में पीतल के बरतन और लेदर आइटम भी आपको मिल जायेगा. साथ ही हैंडमेड अचार, पापड़ और कॉस्मेटिक आइटम भी उपलब्ध है. वहीं थर्ड फ्लोर पर कैफेटेरिया रहेगा, जहां लोग बिहार के लजीज व्यंजनों का भी लुत्फ उठा सकेंगे.
मॉल खुलने की तैयारी अप्रैल 2018 से ही की जा रही है. इसके बनने में लगभग डेढ़ साल का वक्त लगा है. ऐसे में मॉल खुलने के एक दिन पहले यहां जोर-शोर से तैयारी दिखी. हर कोई उद्घाटन समारोह के लिए मॉल को पूरी तरह से फिनिशिंग दे रहा था. सभी सेक्शन पर कपड़े सजाये जा चुके थे.
इस दर पर मिलेंगे कपड़े
बंडी- एक हजार से तीन हजार रुपये
साड़ी- 1200 से 15 हजार रुपये
कुर्ती- 800 से दो हजार रुपये
कुर्ता- एक हजार से 1500 रुपये
धोती- 450 से 1300 रुपये
शर्ट- 900 से 1300 रुपये
पैंट- 1400 से 2500 रुपये
तसर सिल्क -1200 से 6500 रुपये मीटर
मटका सिल्क-600 से 1600 रुपये मीटर
कटिया-कटिया सिल्क- 1600 से पांच हजार रुपये मीटर
वुलेन कपड़े- 1500 से 2500 रुपये
लेडीज सूट कपड़ा- 900 से 3000 रुपये
किड्स ड्रेसेज- 999 से 1500 रुपये
हैंडमेड आइटम- 300 से 13 हजार रुपये
बेडशीट- 600 से 1500 रुपये
20 प्रतिशत तक की दी जायेगी छूट 
खादी मॉल में ग्राहकों को न सिर्फ खादी में बेहतरीन डिजाइन और कपड़े मिलेंगे बल्कि यहां खरीदारी करने पर 20 प्रतिशत तक की छूट भी दी जायेगी. शोरूम प्रबंधक ने बताया कि खादी कपड़ों को सिलवाना लोगों की अभी भी पहली पसंद है. इसलिए खरीदारी करने वालों को मॉल में सरकार द्वारा खादी के कपड़ों पर 20 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है. बिहार खादी ग्रामोद्योग बोर्ड से निर्मित खादी का कपड़ा रेडिमेड कपड़ों की अपेक्षा ज्यादा बिकता है.
खादी पर मिल रहे ढेरों डिजाइन
यह मॉल बिहार सरकार द्वारा खादी को ब्रांड के रूप में प्रमोट करने का कदम है. इससे शहरवासियों को खादी में भी डिजाइनर कपड़े एक ही बिल्डिंग के नीचे आसानी से मिल जायेगा. इसके साथ ही मॉल खुलने के बाद कई लोगों को रोजगार भी मिलने लगा है. मॉल खुलने से पहले ही यहां सभी सेक्शन में खादी के ढेरों कलेक्शन हैं, जहां बच्चों से लेकर बड़े-बुजुर्ग तक के लिए कई प्रकार की खादी में डिजाइनर कपड़ों के लेटेस्ट कलेक्शन है.
यह मॉल देश में पहला एवं सबसे बड़ा मॉल होगा
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंगलवार को गांधी मैदान स्थित नवनिर्मित बिहार खादी मॉल का उदघाटन करेंगे. उद्घाटन  समारोह की अध्यक्षता उद्योग मंत्री श्याम रजक करेंगे. खादी मॉल के उद्घाटन के अवसर पर उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, सभी मंत्रियों एवं मुख्य सचिव, सभी प्रधान सचिव एवं सचिव को आमंत्रित किया गया है.
आधिकारिक जानकारी के मुताबिक भारत में खादी मॉल के नाम पर यह देश में पहला एवं सबसे बड़ा मॉल होगा.  इसमें बिहार की खादी संस्थाओं के द्वारा उत्पादित खादी वस्त्रों  की बिक्री की जायेगी. साथ ही राज्य की अन्य खादी संस्थाएं अपना खादी वस्त्र बेचना चाहती हैं, तो इसमें इसकी इजाजत होगी. उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री  महात्मा गांधी की मूर्ति पर माल्यार्पण करेंगे. इसके बाद वे मॉल के तीनों तलों का मुआयना भी करेंगे.
मॉल के किस फ्लोर पर क्या, जानें
ग्राउंड फ्लोर : यहां साड़ी, सलवारसूट, लेडीज गारमेंट्स की बिक्री की व्यवस्था की गयी है.
प्रथम तल : खादी फैब्रिक,  रेडीमेड शर्ट, कुर्ता पायजामा, बंडी एवं जेंट्स गारमेंट्स की बिक्री की व्यवस्था.
द्वितीय तल : ग्रामोद्योग सामग्री जैसे–साबुन, शेंपू, बॉडी लोशन, फेशवास एवं हैंडीक्राफ्ट से संबंधित सामग्रियों की बिक्री. इसी तल पर उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान की तरफ से हाथ से बनी सामग्रियों  जैसे–मिथिला पेंटिंग, टिकुली आर्ट, पेपरमेशी, स्टोनक्राफ्ट इत्यादि की भी बिक्री की व्यवस्था की गयी है.
तृतीय तल : यहां  शुद्ध देशी बिहारी व्यंजन तथा खाद्य पदार्थ उपलब्ध रहेंगे. इसके अलावा इसी तल पर सभी प्रकार के खादी-सूती वस्त्र, ऊनी एवं रेशमी उपलब्ध रहेंगे.
यह भी पढ़े  सिंहासन को ले युवराजों में छिड़ी जंग : मंगल पांडेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here