बिहार में डेंगू मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 1200 के पार, पटना में मिले 820 मामले

0
239

बिहार की राजधानी पटना में डेंगू (Dengue) मरीजों की संख्या 1217 पहुंच गई है. पीएमसीएच (PMCH) और पटना के अन्य बड़े प्राइवेट हॉस्पिटल के आंकड़े ने स्वास्थ्य विभाग की परेशानी बढ़ा दी है. डायरिया के मरीजों की संख्या में भी इजाफा किया गया. गुरुवार को 70 डायरिया के मरीज पीएमसीएच के ओपीडी में इलाज के लिए पहुंचे थे.

बिहार की राजधानी पटना सहित बिहार का हर जिला डेंगू की चपेट में है. हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू पर काबू पाने के लिए हर तरह के इंतजाम के दावे किए हैं. सिर्फ पटना में 20 जगहों पर हेल्थ कैंप लगाया गया है. जहां मरीजों को फौरी दवाई दी जा रही है. दूसरी तरफ बिहार में डेंगू से पीड़ित लोगों की संख्या 1217 हो गई है, जिसमें अकेले पटना में 820 मरीज हैं.

पीएमसीएच सहित दूसरे सरकारी और निजी अस्पतालों में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू से निपटने के लिए हर तरह के इंतजाम के दावे किए हैं. इसी कड़ी में स्वास्थ्य विभाग ने पटना में ही 20 अलग-अलग जगहों पर हेल्थ कैंप लगाया गया है.

यह भी पढ़े  जगन्नाथ रथयात्रा में शामिल हुए हजारों श्रद्धालु

85 हजार घरों तक क्लोरीन के टेबलेट और ब्लीचिंग पाउडर पहुंचाने की मुहीम शुरू हो गई है. लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए पटना बड़ा सेंटर बनाया गया है. दिन-रात सेंटर में चल रहा काम.

भाजयुमो के 48 कार्यकर्ताओं ने रक्तदान किया। इनमें बाढ़, वैशाली तथा पटना के कार्यकर्ता शामिल थे। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद संजय जायसवाल के दिशानिर्देश पर भाजयुमो बिहार प्रदेश की टीम ने पटना के जय प्रभा ब्लड बैंक में 48 यूनिट रक्तदान किया। इस कार्यक्रम की अगुआई भाजयुमो बिहार प्रदेश अध्यक्ष सह विधायक नितिन नवीन ने की। श्री नवीन ने कहा कि बिहार में खासकर पटना जैसे बड़े इलाके में डेंगू मरीजों के लिए प्लेटलेट्स की कमी को पूरा करने में भाजयुमो कार्यकर्ता तन-मन से लगे हुए हैं। भाजयुमो कार्यकर्ता हर जिले के ब्लड बैंक में बढ़-चढ़ कर रक्तदान कर रहे हैं ताकि आम लोगों को प्लेटलेट्स की कमी न हो।

यह भी पढ़े  डिजिटल तकनीक का बोलबाला होगा बिहार चुनाव में

जल निकासी आपदा मंच जलजमाव के लिए जिम्मेदार सरकार एवं लापरवाह नौकरशाहों के विरुद्ध शनिवार को बड़े पैमाने पर प्रदर्शन करेगा एवं धरना देगा। पटना के जल निकासी आपदा मंच की ओर से यह धरना – प्रदर्शन सुबह 9.30 बजे से राजेन्द्र नगर रोड नम्बर -11, नगर निगम पार्क में आयोजित किया गया है। इस कार्यक्रम में राजेन्द्र नगर, रामपुर, बाजार समिति, आर्य कुमार रोड, पाटलिपुत्र पथ समेत अन्य क्षेत्रों के पीड़ित परिवार सम्मिलित होंगे। इस बात की जानकारी मंच के संयोजक दिलजीत खन्ना ने दी। उन्होंने बताया कि यह धरना – प्रदर्शन जलजमाव के लिए जिम्मेदार सरकार एवं लापरवाह नौकरशाहों के विरुद्ध किया गया है। इसमें व्यक्तिगत क्षति को उचित मुआवजा दिए जाने, दोषी अधिकारियों व कर्मचारियों को चिन्हित कर सजा दिए जाने, जलजमाव के पुनरावृत्ति रोकने के लिए सरकार द्वारा आवश्यक कदम उठाने की मांग करने, नाला उड़ाही में हुए भ्रष्टाचार की जांच किए जाने, नगर निगम एवं बुडको के लापरवाह अधिकारियों व कर्मचारियों को बर्खास्त करने समेत अन्य मांगों पर र्चचा की जाएगी।

यह भी पढ़े  दिल्ली विस का चुनाव विचारधारा की लड़़ाई:उपमुख्यमंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here