कुछ लोगों को अनुच्छेद 370 हटाए जाने से परेशानी क्यों हो रही है: रवि शंकर प्रसाद

0
168

मुंबई: केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मुंबई में थे. प्रसाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया जिसमें उन्होंने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. प्रसाद ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह कहां हैं? उन्हें हम नही, बल्कि कांग्रेस के ही नेता खोज रहे हैं. उनके नेता सोच रहे हैं कि हर गंभीर स्तिथि में वो गायब हो जाते हैं.

प्रसाद ने विपक्ष पर प्रहार करते हुए कहा, “महाराष्ट्र के कुछ लोगों को धारा 370 को हटाए जाने से परेशानी क्यों हो रही है? आर्टिकल 370 पर ये सवाल क्यों नही पूछा जाए कि कांग्रेस ने इसका विरोध क्यों किया था? यही सवाल शरद पवार से भी है. आज तक कांग्रेस ने ये नहीं बताया कि आर्टिकल 370 से आज तक देश को क्या फायदा हुआ है. जम्मू-कश्मीर में इस धारा की वजह से जम्मू की एक हिंदू बेटी दिल्ली के हिन्दू बेटे से शादी करती तो उसे सम्प्पति से बेदखल होना पड़ता. कश्मीरियों को वहां से जबरन भगाया गया. आर्टिकल 370 अलगाववाद और आतंकवाद का पोषक बना. आज सरदार पटेल को आदर करने का मन करता है. 560 रियासतों में से सिर्फ एक में ही समस्या क्यों है, इसका जवाब राहुल गांधी दे.”

यह भी पढ़े  इसरो 2020 तक दूसरे चंद्रमा मिशन पर ध्यान केंद्रित कर रहा है :के. सिवन

कानून मंत्री ने कहा, “महाराष्ट्र के चुनाव की विभाजन रेखा बहुत क्लियर है. एक तरह एक नेता की विश्वभर में पहचान है, उन्होंने देश मे गवर्नेंस के तीन आयाम दिए है शुचिता, राष्ट्रीयता, गुड गवर्नेंस. देवेंद्र फडणवीस इन तीनों सिद्धांतो पर प्रभावी तरीके से चले हैं. 2008 में मुंबई पर हमला हुआ था, उस वक्त की प्रदेश और देश की सरकार हताश नज़र आ रहे थे लेकिन आज दुश्मन मुंबई में तो क्या देश के किसी शहर में हमला करने की हिम्मत नही करता है क्योंकि अब जवाब उरी और बालाकोट की शक्ल में होगा. हम जो बोलते हैं वो करते हैं. बिचौलिये के दिल्ली के रास्ते बंद हो चुके हैं. फडणवीस ने भी वो दरवाजे बंद कर दिए हैं. फडणवीस पर भ्रष्टाचार का कोई धब्बा नहीं है, कोई दंगा नही हुआ है इन पांच सालों में.”

रविशंकर प्रसाद ने कहा, जीडीपी की विकास दर बरकरार है. देश में मोबाइल मैनुफैक्चरिंग की 268 फैक्ट्रियां हैं. मेट्रो का निर्माण हो रहा है. सड़कें बन रही हैं. लोगों के पास रोजगार है. उन्होंने एनएसएसओ की ओर से नौकरी को लेकर जारी किए गए आंकड़ों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि देश में मंदी नहीं है. उन्होंने अपने दावे के समर्थन में ईपीएफ के आंकड़े बताए और किसानों की आत्महत्या के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि हम कारणों की पहचान कर रहे हैं. मरहम लगा रहे हैं. हालांकि, रविशंकर प्रसाद ने शिवसेना के घोषणा पत्र पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया है.

यह भी पढ़े  INDvsPAK: पाकिस्तान पर भारत की जीत के बाद बोले अमित शाह- 'एक और सर्जिकल स्ट्राइक'

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मुंबई में शनिवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि देश में मेट्रो, मोबाइल और सड़कें बन रही हैं, जिससे लोगों को काम मिल रहा है. उन्होंने आगे कहा, हमारी अर्थव्यवस्था का आधारभूत ढांचा मजबूत है और महंगाई दर नियंत्रण में हैं. उन्होंने यह भी दावा किया कि एफडीआई सबसे ऊंचे स्तर पर है. रविशंकर प्रसाद ने मंदी को लेकर बेढब बयान दिया उन्होंने देश की आर्थिक मंदी को फिल्मों की कमाई से जोड़ते हुए कहा कि तीन-तीन फिल्में करोड़ों का कारोबार कर रही हैं तो फिर देश में मंदी कहां है. उन्होंने कहा कि 3 फिल्मों ने 2 अक्टूबर को एक दिन में 120 करोड़ रुपये की कमाई की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here