UNGA: बौखलाए पाक ने RSS और सीएम योगी पर बोला हमला, पहले दी थी परमाणु हमले की धमकी

0
15

पाकिस्तान बातचीत की भाषा नहीं समझता और न ही समझना चाहता है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कल संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान को दुनिया के सामने बेनकाब किया तो अब पाकिस्तान ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है. भारत की जुबानी सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाए पाकिस्तान को जब कुछ नहीं समझ आया तो उसने संयुक्त राष्ट्र में आरएसएस और योगी आदित्यनाथ पर ही हमला बोल दिया.

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तानी राजनयिक साद वरिच ने कहा कि भारत में आरएसएस की शाखाओं में फासिज्म सिखाया जा रहा है. भारत में ईसाई और मुस्लिम अल्पसंख्य असुरक्षित हैं. पाकिस्तानी राजनयिक साद वरिच ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम भी संयुक्त राष्ट्र में उछाला. पाकिस्तान ने कहा जहां एक हिन्दू अतिवादी भारत के सबसे बड़े राज्य में मुख्यमंत्री का चेहरा है जो खुले आम हिन्दू श्रेष्ठता की बात करते हैं.

भारत ने आरोपों का मुंहतोड़ जवाब दिया
संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान की ओर से लगाए गए आरोपों का भारत ने करारा जवाब दिया है. राइट टू रिप्लाई’ के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए संयुक्त राष्ट्र मिशन में भारत की दूत एनम गंभीर ने कहा है कि इमरान खान की नई सरकार पुराने सांचे में ढाली गई सरकार है जिसे न्यू पाकिस्तान का नाम दिया गया है. पाकिस्तान आज भी संयुक्त राष्ट्र की आतंकी सूची में शामिल 132 आतंकियों और 22 आतंकी संगठनों को पनाह दिए हुए है. हाफिज सईद जैसा ग्लोबल आतंकी खुलेआम रैलियां करता है और चुनावों में अपने उम्मदीवारों को लड़वा रहा है. पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत पर पेशावर के स्कूल पर हमला कराने का आरोप लगाया है, भारत ने इस झूठे आरोप पर भी पाकिस्तान को जमकर सुनाया.

यह भी पढ़े  जेल का सामना करने पाकिस्तान आ रहा हूं :नवाज शरीफ

कल सुषमा स्वराज ने की थी ‘जुबानी सर्जिकल स्ट्राइक’
संयुक्त राष्ट्र महासभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आतंकवाद के मुद्दे पर पड़ोसी देश पाकिस्तान को खरी-खरी सुनाई. सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान की सच्चाई पूरी दुनिया के सामने रखी. उन्होंने कहा कि हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान आतंकवाद फैलाने में माहिर है. सुषमा ने यह भी कहा कि 9/11 का मास्टर माइंड मारा गया, लेकिन 26/11 का मास्टर माइंड खुला घूम रहा है. बता दें कि सुषमा स्वराज ने अपना पूरा भाषण हिंदी में दिया.
सुषमा स्वराज ने कहा, ”हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान आतंकवाद फैलाने में माहिर है. भारत के लिए सबसे दुख की बात यह है कि पड़ोसी देश से आतंकवाद की चुनौती का सामना करना पड़ रहा है.” उन्होंने कहा, ”पाकिस्तान का चेहरा पूरी दुनिया ने पहचान लिया है, हर बार पाकिस्तान की वजह से ही दोनों देशों के बीच वार्ता में दिक्कत आई है, 26/11 का मास्टर माइंड आतंकी हाफिज सईद आज भी पाकिस्तान में खुला घूम रहा है.”

यह भी पढ़े  आसियान सम्‍मेलन से पहले भारत ने 'लुक ईस्ट' की पॉलिसी बदलकर 'एक्ट ईस्ट' की

सुषमा स्वराज ने आगे कहा, ”भारत ने लगातार प्रयास किए हैं कि दोनों देशों के बीच वार्ता का माहौल बने पर आतंक के वातावरण में क्या भारत-पाकिस्तान के बीच सही बातचीत हो सकती है? ये संभव नहीं है.” उन्होंने कहा, ”पाकिस्तान आतंकवादियों की तस्वीर लगे डाक टिकट निकालता है, भारत आतंकियों की करतूतों को कब तक नजरंदाज कर सकता है, ऐसा ही चलता रहा तो आतंकवाद का दावानल सबको निगल जाएगा.”

सुषमा की फटकार से बौखलाया पाकिस्तान
बौखलाए पाकिस्तान ने पहले तो तंगधार और केरन सेक्टर में सीजफायर उल्लंघन किया, सुषमा के हमले से झुंझलाए पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने संयुक्त राष्ट्र के सामने भारत को परमाणु हमले की गीदड़ भभकी दी. इसके बाद आज सुबह पाकिस्तान परस्त आतंकियों ने जम्मू कश्मीर के शोपियां में एक पुलिस स्टेशन पर हमला कर एक पुलिसवाले की जान ले ली .

बौखलाहट में पाकिस्तान अब झूठ का जहर उगल रहा है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत के खिलाफ अपनी खुन्नस निकालते हुए कहा कि भारत अमन की बातचीत के बजाए घरेलू राजनीति को तरजीह देता है.

यह भी पढ़े  नेपाल: हिल्सा पहाड़ी से करीब 200 मानसरोवर तीर्थयात्रियों को सुरक्षित निकाला गया

विदेश मंत्रिस्तरीय वार्ता रद्द किये जाने पर कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ सभी मुद्दों पर बातचीत करना चाहता था लेकिन नई दिल्ली ने ‘‘शांति पर राजनीति को’’ तरजीह देते हुए वार्ता रद्द कर दी. संयुक्त राष्ट्र के मंच से भी पाकिस्तान कश्मीर का राग अलापना नहीं भूला. कुरैशी ने अपने भाषण में कहा, ”हम गंभीर और व्यापक वार्ता के जरिये विवादों का समाधान चाहते हैं जिसमें चिंता के सभी मुद्दे शामिल हों.”

पाकिस्तान ने परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की भी दी
कुरैशी ने कहा, ”भारत गाहे-बगाहे लाइन ऑफ कंट्रोल पर सीज़फायर तोड़ता रहता है. हम यह बता दें कि पाकिस्तान के सब्र का इम्तेहान न लिया जाए. भारत ने अगर LOC को लांघा या लिमिटेड वॉर जैसी हिमाकत की तो उसे भरपूर पलटवार को झेलना होगा. दक्षिण एशिया में परमाणु संतुलन की बात की जाती है लेकिन पाकिस्तान का क्रेडिबल मिनिमम डेटेरेन्स का तकाजा है कि वो परमाणु हथियारों का इस्तेमाल न करने की गारंटी नहीं दे सकता.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here