RBI के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने वक्त से पहले छोड़ा पद

0
26

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) के सबसे कम उम्र के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अपना कार्यकाल समाप्त होने से 6 महीने पहले इस्तीफा दे दिया है. आचार्य 23 जनवरी 2017 को डिप्टी गवर्नर के पद पर नियुक्त हुए थे. उनका यह कार्यकाल तीन साल का था, लेकिन कार्यकाल खत्म होने के छह महीना पहले ही उन्होंने इस्तीफा सौंप दिया. फरवरी 2020 में उन्हें सीवी स्टार प्रोफेसर ऑफ इकनॉमिक्स के रूप में न्यू यॉर्क यूनिवर्सिटी स्टर्न स्कूल ऑफ बिजनेस (एनवाईयू स्टर्न) लौटना था, लेकिन आचार्य इस साल अगस्त में ही जा रहे हैं.

बिजनेस स्टैंडर्ड के सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक, रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की समीक्षा की बैठक से कुछ हफ्ते पहले ही इस्तीफा दे चुके थे. जुलाई खत्म होने के कुछ दिन पहले ही आचार्य पद मुक्त हो जाएंगे. डिप्टी गवर्नर ने इस्तीफा देने के पीछे निजी कारणों का हवाला दिया. हालांकि ज्यादा जोर देने पर उन्होंने कहा कि, स्कूल में मेरे एक शिक्षक ने कहा कि, जब तुम्हारा काम खुद बोले तो बीच में दखल मत दो.

यह भी पढ़े  एक्शन मोड में अमित शाह, आंतरिक सुरक्षा पर डोभाल, रॉ-आईबी चीफ के साथ की बैठक

इससे पहले RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने दिया था इस्‍तीफा
दिसंबर 2018 में उर्जित पटेल ने आरबीआई गवर्नर कार्यकाल पूरा होने से पहले अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया था. उर्जित पटेल ने अपने बयान में बताया कि वो निजी कारणों से इस्तीफा दे रहे हैं. उर्जित पटेल के इस्‍तीफे के बाद शक्‍तिकांत दास को आरबीआई का गवर्नर नियुक्‍त किया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here