DDCA चुनाव 2018: रजत शर्मा बने DDCA अध्यक्ष, मेंबर्स को कहा- साथ देने के लिए शुक्रिया

0
74

इंडिया टीवी के चेयरमैन और एडिटर इन चीफ रजत शर्मा सोमवार को दिल्ली और जिला क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA)के नए अध्यक्ष बन गए हैं। DDCA इलेक्शन 27 जून से 30 जून तक चले थे। जिसका नतीजा सोमवार को आया। रजत शर्मा अगले 3 साल के लिए DDCA के प्रेसिडेंट रहेंगे। रजत शर्मा को 1,531 वोट मिले जबकि मदन लाल को 1,004 वोट से संतोष करना पड़ा। मुकाबले में खड़े तीसरे उम्मीदवार वकील विकास सिंह को महज 232 वोट मिले।

रजत शर्मा को 54.40 फीसदी वोट मिले। राकेश कुमार बंसल उपाध्याक्ष चुने गए। उन्हें 48.87 प्रतिशत वोट मिले। विजयी उम्मीदवारों में खेल समिति के पूर्व अध्यक्ष विनोद तिहाड़ा (1,374 वोट) शामिल हैं जिन्होंने सचिव पद के चुनाव में करीबी प्रतिद्वंद्वी मंजीत सिंह (998) को 376 वोटों से हराया।

चुनाव जीतने वाले अन्य उम्मीदवारों में राजन मनचंदा (संयुक्त सचिव), ओमप्रकाश शर्मा (कोषाध्यक्ष), संजय भारद्वाज (निदेशक) शामिल हैं। वहीं रेणु खन्ना महिला निदेशक बन गयीं।

अध्यक्ष बनने के बाद रजत शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ”सबसे पहले मैं इस ऐतिहासिक जीत के लिए अपनी टीम के उन सारे मेंबर्स को बधाई देना चाहता हूं जिन्होंने यह लैंडस्लाइट विक्टरी हासिल की है। मैं DDCA के उन सारे मेंबर्स का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने हमें वोट दिए। अब जिम्मेदारी हमारे ऊपर है कि हमने जो वादे किए हैं उन्हें पूरा करें। ये प्रोक्सी वोटिंग पर लोकतांत्रिक तरीके से हुई मतदान जीत है। ये डीडीसीए में बदलाव की जीत है। ”

यह भी पढ़े  ICC T20I Rankings: करियर की बेस्ट रैंकिंग पर पहुंचे कुलदीप यादव, टॉप 10 में बरकरार रोहित-राहुल

द्म भूषण से सम्मानित रजत शर्मा ने डीडीसीए से भ्रष्टाचार मिटाने और पारदर्शिता लाने का वादा किया था। जिसके चलते उनकी टीम ने चुनावों में 12-0 से क्लीन स्वीप किया। उनके पैनल के सभी 12 सदस्य जीते। जस्टिस विक्रमजीत सेन की देखरेख में पहली बार डीडीसीए चुनाव बिना प्रोक्सी सिस्टम के हुए हैं। डीडीसीए में चले आ रहे प्रोक्सी सिस्टम की हमेशा से आलोचना होती आई है। इसी प्रोक्सी सिस्टम को डीडीसीए में हो रहे भ्रष्टाचार की बड़ी वजह बताया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here