CWG 2018 : सतीश ने रचा इतिहास, वेटलिफ्टिंग में दिलाया भारत को तीसरा गोल्ड

0
64

गोल्ड कोस्ट : ऑस्ट्रेलिया में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ खेलों में भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है. खेलों के तीसरे दिन शनिवार को भारत के वेटलिफ्टर खिलाड़ी सतीश कुमार शिवालिंगम ने भारत की झोली में एक और स्वर्ण पदक डाल दिया. अब भारत के स्वर्ण पदकों की संख्या तीन हो गई है और तीनों ही पदक वेटलिफ्टिंग में आए हैं.

सतीश ने भारोत्तोलन के पुरुषों के 77 किलोग्राम भारवर्ग में भारत को सोने का तमगा दिलाया. सतीश ने स्नैच में 144 का सर्वश्रेष्ठ भार उठाया तो वहीं क्लीन एंड जर्क में 173 का सर्वश्रेष्ठ भार उठाया. कुल मिलाकर उनका स्कोर 317 रहा. उन्हें क्लीन एंड जर्क में तीसरे प्रयास की जरूरत नहीं पड़ी.

स्पर्धा का रजत इंग्लैंड के जैक ओलिवर के नाम रहा जिन्होंने 312 का कुल स्कोर किया. आस्ट्रेलिया के फ्रांकोइस इटुउंडी ने 305 के कुल स्कोर के साथ कांस्य पदक पर कब्जा जमाया. भारत का यह इन खेलों में कुल पांचवां पदक है.

यह भी पढ़े  अंडर-20 वर्ल्ड एथलेटिक्स में हिमा दास ने रचा इतिहास, 400m की दौड़ में जीता गोल्ड

मीराबाई चानू ने दिलाया भारत को पहला स्वर्ण पदक
भारत की स्टार भारोत्तोलन महिला खिलाड़ी मीराबाई चानू ने 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में पहले ही दिन 48 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा में भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया था. मणिपुर की चानू ने इस स्पर्धा में शानदार प्रदर्शन किया और अपने प्रतिद्वंद्वियों को आस-पास भी नहीं भटकने दिया. चानू ने एक साथ राष्ट्रमंडल खेलों का रिकार्ड और गेम रिकार्ड अपने नाम किए.

मीराबाई चानू ने स्नैच में 86 का स्कोर किया और क्लीन एंड जर्क में 110 स्कोर करते हुए कुल 196 स्कोर के साथ स्वर्ण अपने नाम किया. स्नैच और क्लीन एंड जर्क दोनों में चानू का यह व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. उन्होंने साथ ही दोनों में राष्ट्रमंडल खेल का रिकार्ड भी अपने नाम किया है.

संजीता चानू ने भी किया कमाल और भारत को दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया
संजीता चानू ने खेलों के दूसरे दिन शुक्रवार को भारत को इन खेलों में दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया. मणिपुर की संजीता ने अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर एक तरफा प्रदर्शन किया और महिलाओं की 53 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा में भारत की झोली में एक और स्वर्ण डाला. संजीता इससे पहले भी कॉमनवेल्थ खेलों में गोल्ड मेडल जीत चुकीं हैं.

यह भी पढ़े  CWG 2018: साइना ने सिंधु को हराकर दूसरी बार किया गोल्ड पर कब्जा, बनी भारत की पहली बैडमिंटन खिलाड़ी

संजीता ने स्नैच में 84 किलोग्राम का सर्वश्रेष्ठ भार उठाया जो गेम रिकार्ड रहा. वहीं क्लीन एंड जर्क में उन्होंने 108 किलोग्राम का सर्वश्रेष्ठ भार उठाया और कुल 192 के कुल स्कोर के साथ सोने का तमगा अपने नाम करने में सफल रहीं.

गुरुराजा ने दिलाया भारत को पहला पदक
इससे पहले भारत का पदक का खाता वेटलिफ्टिंग से खुला. वेटलिफ्टिंग में गुरुराजा ने सिल्वर मेडल जीता हैं. उन्होंने यह पदक 56 किलोग्राम भारवर्ग में जीता. गुरुराज ने स्नैच में 111 का स्कोर किया तो वहीं क्लीन एंड जर्क में 138 का स्कोर किया. उन्होंने कुल 249 का स्कोर करते हुए पदक अपने नाम किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here