BJP का सदस्यता अभियान अब 20 अगस्त से बढ़ाकर 25 अगस्त तक

0
40

भारतीय जनता पार्टी का सदस्यता अभियान अब 20 अगस्त से बढ़ाकर 25 अगस्त तक कर दिया गया है। यह जानकारी बिहार के सदस्यता अभियान प्रमुख राधामोहन शर्मा (प्रदेश महामंत्री एवं विधान पार्षद) ने दी है। श्री शर्मा ने बताया कि सभी प्रदेश पदाधिकारी, प्रदेश मोर्चा अध्यक्ष, प्रदेश प्रवक्ता, जिलाध्यक्ष, जिला सदस्यता प्रभारी, जिला सदस्यता प्रमुख, सांसद एवं विधायक 20 से 25 अगस्त के बीच पांच दिनों का प्रवास करेंगे। श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा का सदस्य बनने को लेकर पूरे बिहार में लोगों के बीच बहुत उत्साह देखने को मिल रहा है। बिहार भाजपा इस बार सदस्यता का नया कीर्तिमान स्थापित करेगी।

भाजपा की ओर से चलाये जा रहे संगठन पर्व के तहत आज भाजपा ओबीसी मोर्चा पटना महानगर द्वारा आयोजित सदस्यता अभियान का उद्घाटन करते राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने अभियान की शुरूआत की। मौके पर श्री सिन्हा ने कहा कि भाजपा को छोड़कर देश की और कोई पार्टी लोकतांत्रिक प्रक्रिया में विास नहीं करती। भाजपा में मंडल से लेकर जिला, जिला से प्रदेश और प्रदेश से राष्ट्रीय अध्यक्ष तक चुनाव लोकतांत्रिक व्यवस्था के तहत पारदर्शिता के साथ किया जाता है। उन्होंने कहा कि किसी भी पार्टी में चुनाव नहीं हो रहा है। अध्यक्ष मनोनीत किये जाते हैं। इससे ज्यादा दुर्भाग्य और क्या होगा। आज सभी पार्टियां परिवार की पार्टियां बनकर रह गयीं हैं। एक मात्र भारतीय जनता पार्टी है जो सामान्य वर्ग, दबे-कुचले और पिछड़े वर्ग के लोगों को गले लगाती है और सभी को काम करने को प्रोत्साहित करती है। सांसद सिन्हा ने लोगों से भाजपा की सदस्यता लेने की अपील करते हुए कहा कि लोकतंत्र में विास करने वाले नागरिकों को लोकतांत्रिक पार्टी का साथ देना चाहिए। अभियान में सैकड़ों पुरु ष एवं महिलाओं ने स्वेच्छा से भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। सदस्यता अभियान में दीघा विधायक डॉ. संजीव चौरसिया, भाजपा युवा मोर्चा के संजय गुप्ता, पटना महानगर के मंत्री संजय राय, ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष राम बाबू प्रसाद, प्रवक्ता पिंटू यादव, मंडल अध्यक्ष धम्रेद्र कुमार, अभिषेक बिन्नी, रणवीर कुमार, राजकुमार टुनटुन, रुपेश कुमार सिंह, अरुण चक्रवर्ती, ओमप्रकाश मंटू, भाजपा के क्रीड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश सह संयोजक सतीश राजू, राहुल सिंह, महामंत्री राजकुमार, चुनचुन कुमार, संजय बाबा, पिंटू यादव, संजय आर्य, भावना शर्मा, शालिनी सिन्हा सहित पार्टी कार्यकर्ता थे।

यह भी पढ़े  साहित्य के एकांतिक साधक थे डॉ. दीनानाथ शरण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here