विकास ने बिहार की छवि बदली : नीतीश

0
224

जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के विकास का संकल्प दुहराते हुए कहा कि पिछले एक दशक में राज्य की तस्वीर में सकारात्मक बदलाव आये हैं।श्री कुमार ने शुक्रवार को सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) प्रत्याशियों के पक्ष में आयोजित अलग-अलग चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में सरकार बनने के बाद 13 वर्षों में बिहार की तस्वीर और विकास दर में काफी बदलाव आया है। राज्य ने विकास के नए कीर्तिमान स्थापित कि हैं, जो आगे भी जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सरकार के शासनकाल को अराजक बताते हुए कहा कि उस दौर में लोग शाम होते ही अपने घरों में कैद होने को मजबूर थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सड़क, स्वास्य, बिजली, सात निश्चय योजना एवं हर घर नल जल योजना से गांव में पक्की सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र एवं बिहार सरकार ने मिल कर पिछड़ा एवं अल्पसंख्यकों समेत अन्य के विकास के लिए आयोग का गठन किया। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने पिछले पांच साल में विकास के मोर्चे पर कई उल्लेखनीय कार्य किया है। मोदी सरकार राज्य के विकास में भी हर संभव सहायता दे रही है।श्री कुमार ने आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष के प्रचार पर पलटवार करते हुए कहा कि आरक्षण कांग्रेस नहीं बल्कि संविधान निर्माता बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की देन है, जिसे कभी भी कोई खत्म नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि महागठबंधन के नेता भ्रम फैला कर राजनीतिक रोटी सेंकने का प्रयास कर रहे हैं ताकि उन्हें इस चुनाव में इसका लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि देश की जनता सभी चीजों को भली-भांति समझ रही है और विपक्ष को करारा जवाब देने का मन बना चुकी है। मुख्यमंत्री ने महिला सशक्तीकरण के क्षेा में किये गये कायरे की र्चचा करते हुए कि उनकी सरकार ने महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए कई काम किए हैं।

यह भी पढ़े  सूबे में दुसरे चरण के चुनाव में केंद्र के बजाय हावी रहा बिहारी मुद्दा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here