उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह को सशर्त जमानत

0
455
file photo

उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह ने चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के पुराने मामले में आज सांसदों और विधायकों के मुकदमे की सुनवाई के लिए राजधानी में गठित विशेष अदालत में आत्मसमर्पण किया, जहां उन्हें सशर्त जमानत पर रिहा कर दिया गया।इसके पहले विशेष न्यायाधीश परशुराम सिंह यादव की अदालत में आत्ममसर्पण सह जमानत याचिका दाखिल करते हुये श्री सिंह की ओर से उन्हें जमानत पर मुक्त किये जाने की प्रार्थना की गई थी। अदातल ने उन्हें दस हजार रुपये के निजी मुचलके के साथ उसी राशि के दो जमानतदारों का बंध-पत्र (बॉन्ड पेपर) दाखिल करने की स्थिति में इस सर्श पर जमानत पर मुक्त करने का आदेश दिया कि श्री सिंह मुकदमे में निश्चित की जाने वाली अगली तीन तिथियों पर सशरीर उपस्थित रहेंगे।मामला रोहतास जिले के दावथ थाने में वर्ष 2005 में भारतीय दंड विधान एवं जन प्रतिनिधित्व अधिनियम की अलग-अलग धाराओं में दर्ज किया गया था। आरोप के अनुसार, अज्ञात लोगों ने एक मतदान केंद्र में प्रवेश कर मतदान अधिकारी पर जबरन मतदान से संबंधित कागजातों पर हस्ताक्षर करवाया और कागजात लेकर चले गये। श्री सिंह के खिलाफ इस मामले में वर्ष 2009 में आरोप-पत्र दाखिल किया गया था। मामला रोहतास जिले में लंबित था तथा विशेष अदालत के गठन के बाद मुकदमा पटना स्थानांतरित कर दिया गया था। अदालत में श्री सिंह की लगातार अनुपस्थिति के कारण उनका बंध पत्र खंडित कर दिया गया था और उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ था। इसकी जानकारी मिलने पर आज श्री सिंह न्यायालय में उपस्थित हुये थे।

यह भी पढ़े  जदयू का नया नारा- सच्चा है, अच्छा है- चलो नीतीश के साथ चलें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here