राजस्थान: सत्र से पहले हलचल, जैसलमेर के लिए रवाना हुए गहलोत गुट के 53 विधायक

0
29

राजस्थान में जारी सियासी बवंडर अभी पूरी तरह से थमा नहीं है. विधानसभा सत्र की तारीख के ऐलान के बाद कांग्रेस कैंप में हलचल तेज है और लगातार बैठकों का दौर जारी है. शुक्रवार को विधायकों को होटल से शिफ्ट करने की बात सामने आई है, वहीं दूसरी ओर विधायक खरीद फरोख्त मामले में ACB जांच करने के लिए हरियाणा के मानेसर पहुंची है.

राजस्थान में राज्यपाल कलराज मिश्र द्वारा विधानसभा सत्र की मंजूरी मिलने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने सभी समर्थक विधायकों को जैसलमेर ले जाने की तैयारी कर ली है. तीन चार्टर्ड प्लेन से विधायकों को जैसलमेर ले जाया जा रहा है. एक विमान रवाना हो चुका है. अन्य विधायक कुछ देर में रवाना होंगे. कुछ देर पहले गहलोत कैंप के सभी विधायक एयरपोर्ट पर नजर आए थे. मिली जानकारी के मुताबिक, सभी विधायक 14 अगस्त तक जैसलमेर में रहेंगे. दरअसल राज्यपाल ने गहलोत सरकार को 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने की इजाजत दी है.

यह भी पढ़े  महाराष्ट्र और हरियाण विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान

राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र के लिए 14 अगस्त की तारीख दी है, जिसके बाद कांग्रेस पार्टी अपने विधायकों को एकजुट रखने में लगी है. गुरुवार को बैठक के दौरान सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि सभी विधायकों को लोकतंत्र की रक्षा के लिए होटल में रुकना होगा, सभी त्योहार यहां ही मनाने होंगे. कांग्रेस की ओर से कहा गया है कि विधायक अपने परिवार को भी यहां बुला सकते हैं.

साथ ही कांग्रेस ने अब नया संगठन चुनने की ओर कदम बढ़ा दिए हैं, सचिन पायलट की बगावत के बाद सभी संगठन, पदों को खाली कर दिया गया था. इसके लिए अब विधायकों से सुझाव मांगे गए हैं.

सचिन पायलट गुट पर हमलावर हैं गहलोत

बागी हो चुके विधायकों को वापस बुलाने का न्योता देने के साथ-साथ सीएम गहलोत लगातार तंज भी कस रहे हैं. गुरुवार को उन्होंने कहा कि जब से विधानसभा सत्र का ऐलान हुआ है, विधायकों के रेट बढ़ गए हैं. अगर किसी बागी विधायक को किस्त ना मिली हो तो वो वापस आ सकता है.

यह भी पढ़े  कमलनाथ होंगे मध्‍य प्रदेश के 18वें मुख्‍यमंत्री, 17 दिसंबर को भोपाल के लाल परेड ग्राउंड पर लेंगे शपथ

अशोक गहलोत ने राजस्थान में जारी सियासी संकट के लिए भारतीय जनता पार्टी को जिम्मेदार बताया, साथ ही कहा कि कोरोना संकट के वक्त में लोगों की मदद करने की बजाय बीजेपी सरकार गिराने की कोशिश कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here