PMCH में नाबालिग से दुष्कर्म ,गार्ड गिरफ्तार

0
41

कोरोना काल में जहां लोग एक दूसरे को मदद करने में जुटे हैं वहीं पीएमसीएच में सुरक्षा का भार उठाने वाले गार्ड़ ने नाबालिग के साथ दुराचार किया। नाबालिग को कोरोना की जांच के लिए आई आइसोलेशन वार्ड़ में लाया गया था। वारदात में संलिप्त महेश प्रसाद सिंह सेना का रिटायर्ड़ जवान बताया जा रहा है। वह पीएमसीएच में सुरक्षा गार्ड़ का काम करता था। लड़की के साथ वहीं के गार्ड द्वारा दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है. पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी गार्ड को गिरफ्तार कर लिया है.

घटना को आठ जुलाई की शाम उस वक्त अंजाम दिया गया जब नाबालिग शौच के लिए गयी थी। मामले के प्रकाश में आने के बाद पुलिस ने सुरक्षा गार्ड़ को गिरफ्तार कर लिया है। पीएमसीएच टीओपी प्रभारी के मुताबिक‚ घटना 8 जुलाई की रात आठ बजे की है। नाबालिग नालंदा जिले की रहने वाली है। उसे 8 जुलाई को ही भटकते हुए हालत में बाढ़ स्टेशन पर पाया गया था। उसके साथ एक अन्य लड़़की भी मिली थी। दोनों को चाइल्ड़ लाइन की टीम ने मौके से सीधे पीएमसीएच में आइसोलेशन के लिए भेज दिया। उसी दिन शाम आठ बजे जब नाबालिग शौच गयी तो सुरक्षा गार्ड़ महेश सिंह पीछे से शौचालय में घुस गया और उसके साथ दुराचार किया। मामले की जानकारी किसी तरह उसने चाइल्ड़ लाइन की टीम को दी जब वे लोग उसका हाल जानने अस्पताल पहुंचे थे। इसके बाद मामला पुलिस के संज्ञान में दिया गया। मामले की जानकारी महिला थाने को भी दी गयी। महिला थाना के अधिकारी और टीओपी प्रभारी ने नाबालिग से पूछताछ की। उसने सुरक्षा गार्ड महेश की पहचान की और उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उधर‚ पीएमसीएच के अधीक्षक ड़ॉ विमल कारक का कहना है कि महिला थाने की पुलिस उनके पास आई थी। उन्होंने मामले की जांच उपाधीक्षक ड़ॉ. सीमा सिन्हा को सौंपी है।

यह भी पढ़े  बिहार में बीजेपी ने किया चुनावी तैयारियों का आगाज,वर्चुअल रैली आज

पुलिस के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि, 8 जुलाई को पीड़िता को बाढ़ रेलवे स्टेशन पर भटकते हुए देख रेलवे पुलिस ने चाइल्ड हेल्पलाइन को सौंप दिया था. चाइल्ड हेल्पलाइन ने 15 वर्षीय किशोरी को कोरोना जांच के लिए पीएमसीएच भेज दिया था. आरोप है कि, 8 जुलाई की ही रात वार्ड के ही गार्ड महेश प्रसाद ने पीड़िता को बाथरूम में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. पीड़िता ने डर से इस बात का जिक्र किसी से नहीं की. बुधवार को जब चाइल्ड हेल्पलाइन के कुछ लोग उसे देखने पहुंचे, तब इसकी सूचना उन्हें दी.

पटना महिला थाना की प्रभारी आरती जायसवाल ने कहा कि, पीड़िता के बयान पर इस मामले की प्राथमिकी महिला थाना में दर्ज कर ली गई है तथा आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि पीड़िता की चिकित्सकीय जांच कराई गई है, जिसकी रिपोर्ट अब तक नहीं आई है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

यह भी पढ़े  गांधी की वजह से दलितों को मिला आरक्षण : मोदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here