शोले’ के ‘सूरमा भोपाली’ का निधन

0
39

बॉलीवुड के लेजेंडरी एक्टर और कॉमेडियन जगदीप का 81 साल की उम्र में निधन हो गया है. बढ़ती उम्र से होने वाली दिक्कतों के चलते उन्होंने अपने प्राण त्याग दिए. रात 8.40 पर उनका निधन मुंबई स्थित अपने घर पर ही हुआ. उनका असली नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी था. उनका जन्म 29 मार्च 1939 को हुआ था. जगदीप ने 400 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था. वे साल 1975 में आई मशहूर फिल्म शोले में सूरमा भोपाली के किरदार से काफी चर्चा बटोरने में कामयाब रहे थे.

इसके अलावा फिल्म ‘पुराना मंदिर’ में मच्छर के किरदार और फिल्म ‘अंदाज अपना अपना’ में सलमान खान के पिता के रोल में भी उन्होंने दर्शकों का जबरदस्त मनोरंजन किया था. उन्होंने एक फिल्म का निर्देशन किया था जिसका नाम सूरमा भोपाली था. इस फिल्म में लीड किरदार भी उन्होंने खुद निभाया था.

जगदीप ने फिल्म इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरुआत 1951 में बी आर चोपड़ा की फिल्म ‘अफसाना’ से की थी. इस फिल्म में जगदीप ने बतौर बाल कलाकार काम किया था. इसके बाद भी उन्होंने कई फिल्मों में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया जिनमें गुरू दत्त की आर पार, बिमल रॉय की दो बीघा जमीन जैसी बेहतरीन फिल्में शामिल हैं. फिल्म ‘हम पंछी एक डाल के’ में उनके काम को लोगों ने काफी सराहा था और भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने भी जगदीप की तारीफ की थी. जगदीप के बेटे जावेद जाफरी और नावेद जाफरी भी एंटरटेन्मेन्ट इंडस्ट्री से जुड़े रहे हैं.

यह भी पढ़े  'बेटियां खास होती हैं' :अमिताभ

गौरतलब है कि पिछले तीन महीनों में बॉलीवुड के पांच बड़ी हस्तियां इस दुनिया को अलविदा कह चुकी हैं. अप्रैल महीने में इरफान खान और ऋषि कपूर ने अपने प्राण त्याग दिए थे. इसके बाद जून के महीने में सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की थी वही इसी महीने कुछ दिनों पहले सरोज खान का निधन हो गया था.

उनके आखिरी सफर के लिए उनके नवाजे मीज़ान जाफ़री (जावेद जाफरी के बेटे) का इंतजार किया जा रहा है, क्योंकि वह लॉक डाउन की स्थिति में मुंबई शहर से बाहर अपने फार्म हाउस में हैं।

अभिनेता जगदीप का पार्थिव शरीर लेकर उनके बेटे जावेद जाफरी घर से मजगांव के सिया कब्रिस्तान की ओर रवाना हो गए हैं। उनके दूसरे बेटे भी साथ हैं। कब्रिस्तान के बाहर पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं।

बता दें कि जगदीप का असली नाम सैयद इश्तियाक जाफरी था। उनके दोनों बेटे जावेद और नावेद जाफरी भी फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा हैं। फिल्म ‘शोले’ में उनके सूरमा भोपाली किरदार को काफी पसंद किया गया था। जगदीप ने अपने बॉलीवुड करियर में लगभग 400 फिल्मों में काम किया।

यह भी पढ़े  Corona के कारण अमिताभ बच्चन ही नहीं, शाहरुख खान ,सलमान खान के घर के बाहर पसरा सन्नाटा,

परिवार के खास दोस्त और प्रोड्यूसर महमूद अली ने पीटीआई को बताया कि जगदीप का निधन बांद्रा में अपने घर पर रात 8:30 बजे हुआ। उम्र की वजह से उनकी तबीयत ज्यादा ठीक नहीं रहती थी।

जगदीप ने अपने फिल्मी करियर की शुरूआत बी आर चोपड़ा की फिल्म अफसाना में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट की थी। इसके बाद वह ‘अब दिल्ली दूर नहीं’. ‘मुन्ना’, ‘आर-पार’, ‘दो बीगा जमीन, ‘अंदाज अपना अपना’ जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में नजर आए।

फिल्म ‘हम पंछी एक डाल के’ में उनके काम को लोगों ने काफी सराहा था और भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने भी जगदीप की तारीफ की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here