करीब दो दशक बाद बिहार में मॉनसून बेहद सक्रिय, 30 जून तक भारी बारिश के आसार

0
50
Patna-A view of waterlogged rain water at Kadam Kuan in Patna after heavy rain falling.

करीब दो दशक बाद बिहार में मॉनसून (Monsoon) बेहद सक्रिय अवस्था में है. बंगाल की खाड़ी में चक्रवात उठने से बिहार में एक बार फिर मानसून सक्रिय हो गया है. मौसम विभाग ने अगले दो दिनों के लिए भारी बारिश का हाई अलर्ट जारी किया है. उसकी सक्रियता का आलम यह है कि प्रदेश में आगामी 72 घंटे में औसतन 100 मिलीमीटर से अधिक बारिश होने की संभावना है. इसको लेकर पूरे राज्य में अलर्ट घोषित किया गया है. कुछ जिलों मसलन पश्चिमी-पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सीवान, अररिया, किशनगंज और कुछ अन्य जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है. ठनका गिरने को लेकर भी अगाह किया गया है.

पटना में रविवार को सुबह से बारिश हो रही है. राजधानी के कंकड़बाग इलाके में बारिश के चलते जगह-जगह सड़कों पर पानी जमा हुआ, जिससे सामान्य जीवन अस्त-व्यस्त दिखा.

पटना शनिवार को सुबह में हल्का बादल छाया था, जो धीरे-धीरे साफ हो गया. आसमान साफ होने से अधिकतम तापमान बढ़ गया. राजधानी का अधिकतम तापमान 35.0 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 25.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज की गयी. वहीं, सुबह में नमी की मात्रा 85 प्रतिशत व शाम में 67 प्रतिशत दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विवेक सिन्हा ने बताया कि राजधानी में भारी बारिश के बदले मॉडरेट बारिश होने की संभावना है. तीन जुलाई तक आसमान में बादल छाये रहने के साथ-साथ हल्की व तेज भी बारिश होगी.

यह भी पढ़े  तेलंगाना के हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ रेप और मर्डर करने वाले सभी 4 आरोपियों का एनकाउंटर

शुक्रवार को पूरे दिन रुक-रुक हुई बारिश के बाद शनिवार को आसमान साफ हो गया. आसमान साफ होने से राजधानी के अधिकतम तापमान में चार डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गयी. इससे दिन में लोगों को ऊमस भरी गर्मी महसूस हुई. हालांकि, शाम होते ही बादल छाने लगा. रविवार से राजधानी व आसपास के इलाके में तेज व हल्की बारिश हो रही है. अगले तीन-चार दिनों तक बादल छाने के साथ-साथ बारिश होने की संभावना बनी हुई है.

बिहार में शनिवार को भी उत्तरी बिहार में शनिवार को कई जगहों पर मूसलधार बारिश दर्ज की गयी़ शेष बिहार में अभी छिटपुट बारिश 30 जून तक होती रहेगी. पूरे बिहार में मानसून के कमजोर पड़ जाने की वजह हवा की तीस-चालीस किलोमीटर प्रति घंटे चल रही हवा की रफ्तार 17-18 किलोमीटर प्रति घंटे रह गयी है. हालांकि, जुलाई के प्रथम सप्ताह में फिर अच्छी बारिश के आसार मजबूत हो रहे हैं. वहीं, शनिवार को बिहार में औसतन करीब 19 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी है़ बिहार में 252 मिलीमीटर बारिश दर्ज की जा चुकी है. यह सामान्य से 87 फीसदी अधिक है.

यह भी पढ़े  दलित-महादलित सम्मेलन में नीतीश कुमार पहुंचे मुंगेर, विरोधियों पर साधा निशाना

बंगाल की खाड़ी में चक्रवात उठने से बिहार में एक बार फिर मानसून सक्रिय हो गया है. मौसम विभाग ने अगले दो दिनों के लिए भारी बारिश का हाई अलर्ट जारी किया है. जिस ट्रफ लाइन के दक्षिणी मध्य बिहार में शिफ्ट होने का पूर्वानुमान था,वह हिमालय की तलहटी में शिफ्ट हो गयी है. लिहाजा मध्य और दक्षिणी बिहार में ज्यादा बारिश नहीं हुई़ हालांकि इस बदलाव की वजह से हिमालय की तहलटी से बिहार की तरफ आने वाली नदियों के जल स्तर में अप्रत्याशित इजाफा होने के आसार हैं. आइएमडी पटना ने इस संबंध में केंद्रीय जल आयोग को सूचित कर दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here