महागठबंधन को टूटने से बचाने के लिए सोनिया गांधी ने संभाली कमान, आज करेंगी अहम बैठक

0
61

बिहार में इस साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और राज्य में लगातार सियासत चरम पर है. महागठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. एक ओर जीतनराम मांझी कोआर्डिनेशन कमिटी नहीं बनाए जाने से नाराज चल रहे हैं तो दूसरी और आरजेडी को मंगलवार को बड़ा झटका लगा है. पार्टी के पांच एमएलसी ने आरजेडी का साथ तो छोड़ दिया और दिग्गज नेता रघुवंश प्रसाद ने भी उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है.

ऐसे में कांग्रेस अलाकमान सोनिया गांधी खुद अब महागठबंधन में सबकुछ ठीक करने की कोशिश में जुट गई हैं. बिहार में राजनीतिक उथल पुथल के बीच यह बैठक महत्वपूर्ण है. आज सोनिया गांधी शाम 4:30 बजे आरजेडी, आरएलएसपी, हम और वीआईपी पार्टी के नेताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक करेंगी.

इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष मदन मोहन झा, आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा, हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी , वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी भी शामिल होंगे. आरजेडी से 5 एमएलसी जेडीयू में जाने के बाद और जीतन राम मांझी, उपेंद्र कुशवाहा को दिल्ली में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से मुलाकात करने के बाद महत्वपूर्ण है.

यह भी पढ़े  बिहार में लागू हुआ लॉकडाउन 5.0, लोगों को मिलेंगी ये 10 रियायतें

दरअसल, महागठबंधन में नाराज चल रहे उपेंद्र कुशवाहा और जीतन राम मांझी ने मंगलवार को कांग्रेस नेता अहमद पटेल के साथ उनके घर पर बैठक की थी. इसके बाद कांग्रेस ने महागठबंधन की कमान अपने हाथ में ले ली है और गठबंधन को बचाने के लिए सोनिया गांधी ने खुद मोर्चा संभाला है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस मीटिंग को बुलाने का मकसद यही है कि महागठबंधन चल रही सभी समस्याओं को जल्द से जल्द दूर किया जाए. जाहिए है, अब बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर सभी दलों ने अपने-अपने स्तर से तैयारी शुरू कर दी है. ऐसे में महागठबंधन की प्राथमिकता होगी कि आंतरिक कलह को दूर किया जाए. बहरहाल, मीटिंग के बाद क्या महागठबंधन में क्या कुछ होता है ये आने वाले समय में ही पता चलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here