महाराष्ट्र के नांदेड़ में लिंगायत समाज के साधु की हत्या

0
54

महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले में लिंगायत समाज के साधु की हत्या करने का मामला सामने आया है. हत्या करने का आरोप भी उसी समाज के एक शख्स पर लगा है. शनिवार रात 12 से 12.30 के बीच पशुपति महाराज नाम के एक साधु की हत्या कर दी गई. पशुपति महाराज के अलावा एक और शख्स की हत्या की गई है. जिसका नाम भगवान राम शिंदे बताया गया है. हालांकि इस शख्स की पहचान हत्यारोपी साईनाथ के साथी के रूप में हुई है.

कैसे हुई हत्या?

हत्यारोपी साईनाथ शनिवार रात दरवाजा खोलकर आश्रम में दाखिल हुआ. क्योंकि कहीं भी दरवाजा तोड़ने के निशान नहीं हैं. दरवाजा अंदर से खुला है, यह कैसे खुला फिलहाल इस बारे में जानकारी नहीं है. पशुपति महाराज की हत्या करने के बाद आरोपी साईनाथ साधु की लाश कार में रखकर बाहर निकलने की फिराक में था. लेकिन कार गेट में फंस गई. इस दौरान छत पर सो रहे आश्रम के दो सेवादार जाग गए. उन्हें जब तक सारी बात समझ में आती आरोपी भागने लगा. जिसके बाद सेवादारों ने आरोपी का पीछा किया. लेकिन वह भाग निकला.

यह भी पढ़े  कल रवि योग में मनेगी अक्षय नवमी

सुबह एक और मृत शरीर मिला

रविवार सुबह जिला परिषद स्कूल के पास एक और डेड बॉडी मिली. मृतक की पहचान भगवान राम शिंदे के तौर पर हुई है. पुलिस के मुताबिक मृत शख्स, आरोपी साईनाथ का साथी है. भगवान राम शिंदे भी लिंगायत समाज से है. उसकी हत्या साईनाथ ने की या किसी और ने, पशुपति महाराज की हत्या से पहले या बाद में, तमाम सवालों पर पुलिस फिलहाल जांच कर रही है.

पालघर में संतों की हत्या पर भागवत ने उठाए सवाल, कहा- पुलिस क्या कर रही थी

पशुपति महाराज इस मठ में 2008 से रह रहे थे. इस मठ को निर्वामी मठ के नाम से जाना जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here