पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के नंदगांव मुहल्ले में छात्रा को मारी गोली फिर खुद को उड़ाया

0
212

राजधानी में पुलिस मुख्यालय से सटे मुहल्ले नंदगांव में एक युवक ने शुक्रवार को अपनी प्रेमिका व एमबीए की छात्रा को गोली मारने के बाद उसके कमरे में ही खुद को गोली मारकर जान दे दी। घटना सुबह साढ़े सात बजे की है। छात्रा निधि भारती (24 वर्ष) को गंभीर हालत में निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलने के बाद पहुंच पुलिस ने प्रेमी चेतन आनंद (26) के शव का पंचनामा कर पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेजवाया। दोनों सीतामढ़ी के परिहार के रहने वाले हैं। पुलिस ने मृतक चेतन के घर वालों को घटना की सूचना देकर पटना बुलाया। घटना शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के नंदगांव मुहल्ले में उदय कुमार के मकान में हुई। निधि और उसकी छोटी बहन उदय के यहां किराये पर कमरा लेकर छह माह से रह रही थी। निधि राजधानी के बेली रोड स्थित एक नामचीन प्रबंधन संस्थान की छात्रा है, जबकि उसकी बहन निभा भारती शास्त्रीनगर के ही एक महिला कॉलेज में पढ़ती है। दोनों बहनों के कमरे एक ही फ्लोर पर एक दूसरे से सटेा अलग है। बताया जाता है कि निधि की बड़ी बहन निशा भारती और बहनोई दो दिन से उनके यहां आए हुए थे। मकान मालिक उदय के मुताबिक सुबह 7:30 बजे वे अपने बच्चे को स्कूल ले जाने के लिए घर से निकल रहे थे, तभी निधि की बड़ी बहन निशा के चिल्लाने की आवाज आयी। वह मदद की गुहार लगा रही थी। जब वे उन लोगों के कमरे के पास गये, तो देखा कि निधि के सिर में गोली लगी है और वह बेड पर गिरी हुई थी, जबकि लड़का भी बेड के नीचे गिरा था। उसके सिर में भी गोली लगी थी। उसका सिर के नीचे खून फैला था। उदय ने तत्काल पुलिस को घटना की सूचना दी। पुलिस के आने के बाद पटना में रहने वाला निधि का फूफे रा भाई भी वहां पहुंच गया। जख्मी छात्रा को आनन-फानन में एक निजी अस्पताल ले जाया गया। घटना की खबर पाकर डीएसपी सचिवालय राजेश सिंह प्रभाकर और शास्त्रीनगर थाने के इंस्पेक्टर विमलेंदु दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद इनलोगों ने पुलिस के वरीय अधिकारियों को मामले की जानकारी दी। फॉरेंसिक विशेषज्ञ अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच कर जांच में जुट गये। फॉरेंसिक टीम ने मौके से पिस्टल, खोखा व रक्त के नमूनों को जांच के लिए एकत्र किये। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार की सुबह चेतन निधि के किराये वाले मकान पर पहुंचा था। उसके बैग में टूथब्रश, टूथपेस्ट व प्रेम पत्र मिले हैं। प्रेम पत्र में लिखा है कि जियेंगे साथ और मरेंगे साथ। पुलिस यह पता लगाने के प्रयास में है कि आखिर हाल के दिनों में ऐसा क्या हुआ, जिसे चेतन ने निधि को गोली मार दी और खुद भी जान दे दी। डीएसपी सचिवालय राजेश सिंह प्रभाकर के मुताबिक दोनों के परिजन से पूछताछ के बाद यह पता लग सकेगा कि आखिर किन परिस्थितियां में चेतन ने वारदात को अंजाम दिया।

यह भी पढ़े  RJD समीक्षा बैठक में नहीं पहुंचे तेजप्रताप, चिट्ठी के जरिए लिखी मन की बात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here