नीतीश के चेहरे पर ही लड़ा जायेगा 2020 का विस चुनाव : चिराग

0
238
PATNA - BAPU SAVA GAR ME L . J . P . PARTEY KA 20Th ASTAPNA DEVASH PAR UDGATHAN KARTA RAMVILASH PASWAN

लोजपा के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने कहा कि बिहार में 2020 का विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के चेहरे पर ही लड़ा जायेगा. पार्टी का भाजपा व जदयू के साथ बिहार में गठबंधन है और उसी गठबंधन के साथ चुनाव लड़ने की तैयारी है. 

लोजपा के ‘‘ चिराग युग’ ने बड़ी गर्मजोशी से 2025 विधान सभा चुनाव का लक्ष्य साधते हुए सांगठनिक ढांचे को दुरुस्त करने का संकेत दे डाला। तैयारी का आलम यह है कि चिराग युग के इस तेवर ने 14 अप्रैल को गांधी मैदान में अपनी ताकत के इजहार का दिन भी तय कर डाला। लोजपा के 20वें स्थापना दिवस के मंच से गौरतलब तो यह रहा कि युवा नेतृत्व का जब उद्घोष हो रहा था तब दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व हाजीपुर के सांसद पशुपति कुमार पारस समेत लोजपा के अनुभवी नेता ताली बजा कर नये नेतृत्व का स्वागत करते दिखे। यह दीगर कि लोजपा के नवनिर्वाचित अध्यक्ष चिराग पासवान ने वर्ष 2020 बिहार विधान सभा चुनाव पर भी अपनी दृष्टि स्पष्ट करते कहा कि विपक्ष मुगालते में न रहे। यह चुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चेहरे को सामने कर एनडीए के नेतृत्व में ही लड़ कर इस बार 225 सीटों पर जीत हासिल की जाएगी। लेकिन पार्टी की तैयारी राज्य की सभी विधान सभा सीटों के लिए की जाएगी। हर विधान सभा क्षेत्र में संगठन को मजबूत किया जाएगा ताकि लोजपा के अलावा एनडीए का जो भी दल उस विधान सभा क्षेत्र से चुनाव लड़े तो उस उम्मीदवार का जिताने की ताकत भी रखे। इस मौके पर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पासवान ने अन्य राज्यों से आये प्रदेश अध्यक्षों से साफ कहा कि राज्य कार्यकारिणी तय करेगी वे चुनाव लड़ना चाहते हैं या नहीं। बाद में उनके प्रस्ताव पर विचार लोजपा का संसदीय बोर्ड करेगा। हमारा गठबंधन एनडीए से सिर्फ बिहार में है। अन्य राज्यों में चुनाव लड़ने की स्थिति बनेगी तो लोजपा अकेले दम पर चुनाव लड़ेगी। बिहार से लड़ कर अभी छह सांसदों वाली पार्टी लोजपा है। अगर अन्य राज्यों में भी चुनाव लड़ कर 60 सांसदों वाली पार्टी लोजपा बन जाएगी तो आप सबों के भविष्य को बनने से कोई रोक नहीं सकता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस राज ने संगठन को मजबूत करने की सलाह दी और कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव 2020 में लोजपा की ताकत का इजहार अलग अंदाज में होगा। लेकिन लोजपा का असली लक्ष्य 2025 का विधान सभा चुनाव होगा। सांगठनिक तैयारी का यह संकल्प इन्हीं बातों को ध्यान में रख कर लिया गया। दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस ने कहा कि आज बड़े भाई रामविलास पासवान के सपनों का देश बनाने का समय आ गया है। प्रदेश महासचिव अब्दुल खालिक, सांसद महबूब अली कैसर, वीणा देवी, चंदन सिंह, काली पाण्डेय, सुनील पाण्डेय, हुलास पाण्डेय समेत कई अन्य नेताओं ने भी स्थापना दिवस के मौके पर अपने उद्गार प्रकट किये। इस मौके पर लोजपा नेताओं में विधायक राजू तिवारी, राज कुमार साह, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अशरफ अंसारी, राजेन्द्र विश्वकर्मा, उपेन्द्र यादव, सौलत राही, आयोजक समिति के सदस्य व मीडिया प्रभारी कृष्णा सिंह कल्लू भी मौजूद थे।

यह भी पढ़े  लोकसभा चुनाव : राजनीतिक दलों ने कसी कमर, तेज हुई चुनावी हलचल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here