5वें चरण का शोर थमा, वोटिंग कल मधुबनी, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, सारण और हाजीपुर संसदीय सीटों पर पड़ेंगे वोट

0
57

प्रदेश में लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में शामिल पांच संसदीय सीटों मधुबनी, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, सारण और हाजीपुर (सु.) में शनिवार की शाम छह बजे प्रचार प्रसार का शोर थम गया। इन लोकसभा क्षेत्रों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सोमवार को सुबह सात से शाम छह बजे तक वोटिंग होगी। चुनाव प्रचार समाप्त होते ही स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराने को लेकर नेपाल की सीमा सील कर दी गयी है। छापेमारी अभियान तेज कर दी गयी है। भारत निर्वाचन आयोग ने संबंधित जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी को स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराने की हिदायत दी है। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि पांचवें चरण के चुनाव की आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। सुरक्षाकर्मी और मतदान कर्मी मतदान केंद्रों पर भेजे जा रहे हैं। शांतिपूर्ण चुनाव कराने को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। सभी मतदान केंद्रों पर सशस्त्र सुरक्षा बल के जवानों की तैनाती की जायेगी। नदी से लेकर आसमान तक निगरानी रखी जायेगी। गंगा और गंडक के दियारा में घोड़सवार पुलिस तैनात किये जायेंगे। एक हेलिकॉप्टर से भी निगरानी रखी जायेगी जबकि एक एयर एंबुलेंस पटना में रिजर्व रखी जायेगी।

यह भी पढ़े  भाजपा नेता की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या, फायरिंग करते हुए भाग निकले अपराधी

अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने कहा कि पांचवें चरण के मतदान की सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। इस चरण में चुनाव लड़ने वाले कुल 82 प्रत्याशियों में छह महिलाएं शामिल हैं। उन्होंने बताया कि पांचवे चरण वाले संसदीय क्षेत्रों में शनिवार को चुनाव प्रचार समाप्त हो गया। मतदान सोमवार को सुबह सात से शाम छह बजे तक होगा। इस चरण में कुल 87,66,722 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें से 87,49,847 मतदाता सूची के अनुसार हैं जबकि 6,875 सर्विस वोटर्स हैं। कुल मतदाताओं में 46,62,380 पुरु ष, 40,87,242 महिला मतदाता एवं 225 र्थड जेंडर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। पोलिंग से संबंधित कर्मचारी, पुलिस बल तथा अर्ध सैनिक बल अपने-अपने संबंधित जिलों में पहुंच चुके हैं। रविवार को पेट्रोलिंग मजिस्ट्रेट द्वारा पोलिंग मेटेरियल एवं ईवीएम संबंधित संसदीय क्षेत्रों के मतदान केंद्रों पर पहुंचाए जाएंगे। पांचवे चरण वाले संसदीय क्षेत्रों के लिए मतदान केंद्रों की कुल संख्या 8,899 है। सीतामढ़ी में 1776, मधुबनी में 1837, मुजफ्फरपुर में 1748, सारण में 1711 एवं हाजीपुर में 1827 मतदान केंद्र हैं। चूंकि तीन लोकसभा क्षेत्रों में 15 से ज्यादा प्रत्याशी हैं इसलिए इस बार 14,260 बैलेट यूनिट की व्यवस्था की गयी है। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि स्वच्छ एवं निष्पक्ष मतदान के लिए 65,000 कार्मिक एवं 4349 माइक्रो ऑब्जर्वर चुनाव डय़ूूटी में तैनात रहेंगे। वहीं 400 जगहों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था रहेगी। वैशाली और सारण के दियारा इलाके में घुड़सवार और नाव से गश्ती की जाएगी। मतदान के दौरान कुल 12,000 गाड़ियों को प्रयोग में लाया जाएगा। इस चरण में कुल 1979 वलरेबल बूथ हैं।

यह भी पढ़े  नीतीश सरकार के खिलाफ तेजस्वी की साइकिल यात्रा पर घनघोर बारिश से लगा ब्रेक

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here