17 से बदल जायेगी ट्रैफिक व्यवस्था

0
18

राजधानी पटना में यातायात अब काफी सुगम हो जायेगा। पटना में स्वतंत्रता दिवस के बाद 17 अगस्त से ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव किये जायेंगे। ट्रैफिक की समस्या से निजात पाने के लिए मुख्य सचिव ने मंगलवार को उच्च स्तरीय बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने बताया कि राजधानी में ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर कई कदम उठाये जा रहे हैं। राजधानी पटना में ट्रैफिक की समस्याओं से निजात पाने को लेकर मंगलवार को छह विभागों के प्रधान सचिव समेत कई वरीय अधिकारियों की बैठक हुई। बैठक में टैफिक व्यवस्था, अतिक्रमण, गाड़ियों के रूट चार्ट समेत 11 बिंदुओं पर र्चचा की गयी। बैठक के बाद मुख्य सचिव ने बताया कि पटना में 17 अगस्त से ट्रैफिक व्यवस्था में परिवर्तन देखने को मिलेगा। इसके लिए कई बदलाव किये जायेंगे। पटना कमिश्नर के कार्यालय में आयोजित बैठक में यातायात पुलिस के रिक्त पदों को भरने को लेकर भी र्चचा हुई। साथ ही पटना की सड़कों से खटारा हो चुकी गाड़ियों को हटाने को लेकर भी र्चचा की गयी। राजधानी की कई महत्वपूर्ण सड़कों को वन-वे कर दिया जायेगा। पटना की सबसे व्यस्त सड़क बेली रोड समेत कई सड़कों से ट्रैफिक लाइट हटाने की कार्रवाई की जायेगी। साथ ही यातायात को सुगम बनाने को लेकर एनआईटी के विशेषज्ञों की मदद भी ली जायेगी। यही नहीं, सड़कों को अतिक्रमण मुक्त किया जायेगा। शहर में पटना नगर निगम की 74 पाकिर्ंग सेंटर होने की जानकारी दी गयी। अब इन पाकिर्ंग सेंटरों पर वाहन पार्क किये जाने पर शुल्क वसूलने का प्रस्ताव रखा गया है। टू व्हीलर वाहन का पाकिर्ंग शुल्क 10 रुपये और फोर व्हीलर वाहन का पाकिर्ंग शुल्क 20 रुपये रखने का प्रस्ताव रखा गया है।

यह भी पढ़े  हताश लोग आज पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं : मोदी

तीन हजार कैमरे करेंगे निगहबानी

राजधानी पटना को स्मार्ट बनाने में ताकत झोंक रहा नगर निगम अब शहर की निगहवानी के लिए करीब तीन हजार सीसीटीवी कैमरे लगाएगा। जबकि निगम की आय बढ़ाने के लिए तीन स्थानों पर कॉमर्शियल मॉल और करीब 6 हजार वेंडरों के लिए वेंडिंग जोन बनाकर शहर को जाम और अतिक्रमण से निजात दिलाने की भी तैयारी है। यह फैसला करीब दो महीने बाद मेयर सीता साहू की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई नगर निगम स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में लिया गया। बैठक में डिप्टी मेयर मीरा देवी समेत कमेटी के तीनों नए सदस्य डॉ. आशीष कुमार सिन्हा, मनोज कुमार एवं सुचित्रा सिंह, इंद्रदीप चंद्रवंशी, विक्की मौर्या आदि उपस्थित थे।

निगमायुक्त अनुपम कुमार सुमन ने बताया कि शहर को स्मार्ट बनाने के लिए नगर निगम योजनाओं को अमली जामा पहना रहा है। आगामी 2 नबंवर को पटना नगर निगम 155 वर्ष का हो जाएगा। इस अवसर पर निगम की एक पुस्तिका भी प्रकाशित करने की योजना है। आटडोर एडवरटाइजिंग रेगुलेशन पर लगी मुहरस्टैंडिंग कमेटी की बैठक में पटना आउटडोर एडवटाइजिंग रेगुलेशन-2019, ऑप्टिकल फाइवर केबल रेगुलेशन-2019 और रोड कटिंग रेगुलेशन-2019 पर भी मुहर लगी। इस नियम के तहत बिना अनुमति के रोड कटिंग कराने, विज्ञान प्रदर्शित करने और केबल बिछाने पर संबंधित व्यक्ति या एजेंसी पर दंडात्मक कार्रवाई का प्रावधान किया गया है। विज्ञापन प्रदर्शन के लिए अगल-अगल एरिया और प्रोपर्टी का दर भी अलग-अलग होगा। बेली रोड, बोरिंग, आशोक राजपथ समेत शहर के अन्य एरिया में विज्ञापन/होर्डिग लगाने के लिए दर भी अलग-अलग होगा। तीन स्थानों पर निगम बनाएगा व्यावसायिक कॉम्प्लेक्सनगर निगम ने अपने आय के श्रोत में वृद्धि करने की योजना के तहत राजेन्द्र नगर में प्रीमियर मॉल, आर्य कुमार रोड में सेकेंडो मॉल और खेतान मार्केट के पास एक मॉल का निर्माण करेगा। मॉल के दुकानों की बिक्री ई-ऑक्शन के माध्यम से होगी। दर 15 हजार 4 सौ रपए प्रति स्क्वायर वर्ग फीट होगा। राजेन्द्र नगर के मॉल पर 51 करोड़, आर्य कुमार रोड के मॉल पर 67 करोड़ और खेतान मार्केट के पास बनने वाले मॉल पर लागत खर्च 38 करोड़ रपए होंगे। सभी मॉल में पार्किंग समेत अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होगी। जबकि मौर्या लोक कंप्लेक्स में खाली 20 दुकानों का दर 13 हजार 7 सौ 50 रपए प्रति स्क्वायर वर्ग फीट होगा। 89 स्थानों पर बनेंगे वेंडिंग जोनअतिक्रमण मुक्ति के लिए निगम 75 वाडरे में 89 स्थानों पर वेंडिंग जोन बनाएगा। 44 स्थानों पर वेंडिंग जोन निर्माण का कार्य आरंभ है। निगमायुक्त ने बताया कि वर्तमान में 5 हजार पांच सौ चौतीस वेंडरों की सुची है, लेकिन बनने वाले वेंडिंग जोन में करी1 6 हजार वेंडरों की व्यवस्था होगी।

यह भी पढ़े  दिल्ली से तो यहां आए हैं अब दिल्ली नहीं जायेंगे : मुख्यमंत्री

पाकिर्ंग नहीं रखने वाले 752 प्रतिष्ठानों को नोटिस व जुर्माना

निगमायुक्त ने बताया कि शहर में ऐसे व्यवसायिक संस्थान और प्रतिष्ठानें है जिनके पास र्पाग स्थल नहीं है। ऐसे में उनके यहां आने वाले वाहन सड़कों या सार्वजनिक स्थलों पर खड़े होते हैं। उन्होंने कहा कि 652 व्यवसायिक संस्थानों/प्रतिष्ठानों के नियम उलंघन के आरोप में नोटिस दिये गए है। कुछ लोगों पर 7 से 10 लाख रुपये तक का जुर्माना भी किया गया है। 74 स्थानों पर बनेगी स्मार्ट पार्किग शहर को जाम से निजात दिलाने के लिए नगर निगम 74 स्थानों पर स्मार्ट पार्किग जोन बनाएगा। इसके लिए स्थल चयनित कर लिए गए हैं। सभी पार्किग सीसीटीवी कैमरे की जद में होंगे। पार्किग से जुड़े एप भी बनाए जाएंगे, जिससे यह पता चलेगा कि किस पार्किग में स्थान खाली है या नहीं है। निगमायुक्त ने बताया कि कई पार्किग स्थलों पर निर्माण का कार्य चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here