10 रुपए के खातिर युवक को गोलियों से भूना, सीने व कनपटी में मारी कई गोली

0
15

मैरवा थानाक्षेत्र में किराना दुकानदार ने महज 10 रुपए की सर्फ वापस न करने की जिद्द पर खूंखार रुप अख्तियार कर लिया और विरोध करने पहुंचे ग्राहक के बड़े भाई को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया। मृतक की पहचान मिसकरहीं के गनवर मिर्जा के 22 वर्षीय पुत्र सलमान मिर्जा के रूप में हुई है।

– आरोपी दुकानदार इतना आक्रोशित था कि उसने मृतक पर लगातार एक के बाद एक दो फायर किये जिसके बाद वह मौके पर ही गिर पड़ा।

– गोलियों की आवाज व खून हजारों की भीड़ मौके पर मौजूद हो गई। आक्रोशित शव को लेकर हत्यारे के दरवाजे पर पहुंच गए और गिरफ्तारी की मांग को लेकर अड़ गए।

– ग्रामीणों का कहना था कि अगर पुलिस ने उसे तत्काल गिरफ्तार नहीं किया तो वे हत्यारे के घर में ही शव को दफना देंगे, लेकिन मौके से नहीं हटेंगे।

– सूचना के बाद पहुंचे एएसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए हत्यारोपी इसराक को गिरफ्तार कर लिया और शव ग्रामीणों के कब्जे से पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

यह भी पढ़े  गृहरक्षकों को मिलेगा तेरह माह का वेतन मंत्रिपरिषद् के फैसले

क्या है मामला
– मृतक का छोटा भाई इसराक मिंया के किराने की दुकान से 10 रुपए का सर्फ का पैकेट लाया था। सर्फ का पैकेट फटा देख उसकी मां ने वापस कर दूसरा पैकेट लाने को कहा।

– जब वह सर्फ का पैकेट वापस करने गया तो दुकान पर बैठे इसराक ने सर्फ वापस करने से इंकार कर दिया। लेकिन मासूम पैकेट वापस करने की जिद करता रहा।

– इसपर दुकानदार ने बच्चे को मार कर भगा दिया। बच्चा रोता हुआ घर पहुंचा तब उसके भाई सलमान मिर्जा ने उससे रोने का कारण पूछा।

– बच्चे ने अपने भाई सलमान से दुकानदार द्वारा सर्फ वापस नहीं करने तथा मारने की बात कही। यह सुनकर सलमान दुकानदार इसराक से पूछ ताछ करने गया।

– पूछ ताछ के दौरान ही दोनों के बीच विवाद और मारपीट भी हो गई। बीच बचाव के बाद मामला शांत हुआ।

– दोपहर 2 बजे के करीब सलमान चाय दुकान पर पकौड़ा खाने गया था। उसे दुकान पर बैठा देख इसराक अपने घर से पिस्टल लेकर पहुंच गया और उसके सीने व कनपटी में गोली मार दी। गोली लगते युवक ने घटना स्थल पर दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़े  शहर की कई सड़कें की जायेंगी चौड़ी :आनंद किशोर

हत्या के बाद आक्रोशित हुए लोग
– हत्या के बाद लोग आक्रोशित हो गए तथा मृतक के शव को हत्यारोपी के दरवाजे पर रखकर हंगामा करने लगे। एसपी तथा डीएम को बुलाने की मांग की।

– पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर लोगों के आक्रोश को शांत कराने का प्रयास किया। लेकिन आक्रोशित हत्यारोपी को बुलाने तथा सुपुर्द करने की मांग करने लगे।

– एएसपी कांंतेश कुमार मिश्र ने मौके पर पहुंचकर स्थिति संभालने का प्रयास किया। जब पुलिस ने हत्यारोपी के पकड़े जाने की बात कहते हुए मोबाइल पर उसकी विडियो दिखाई तब जाकर लोग शांत हुए।

– पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सीवान भेज दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here