हिंदू नेताओं के घर पहुंचते ही आखों से छलका आंसू

0
7

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने हिंदू संगठन के नेताओं की गिरफ्तारी को लेकर एक बार फिर नीतीश कुमार की सरकार पर हमला बोला है. केंद्रीय मंत्री रविवार को गिरफ्तार हिंदू नेताओं के नवादा स्थित घर पहुंचे और परिजनों से मुलाकात की. उन्होंने परिवारों को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया. हालांकि गिरिराज सिंह इस दौरान खुद भी भावुक दिखे. और उनके आखों से आंसू निकल गए.

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि शांति बहाल करने में मदद करने वाले लोगों को झूठे केस में फंसाया जा रहा है. 2017 में मुसलमानों ने भगवान राम का पोस्टर फाड़ा था, दुकानों में आग लगाई थी. अकबरपुर में प्रतिमा को तोड़ा गया. वहीं हिंदू संगठन के नेता शांति बनाने में जुटे थे. फिर भी उन्हें ही गिरफ्तार किया गया है.

उनसे पूछे जाने पर कि वह स्थानीय सांसद हैं और उनके होने के बावजूद यह सब हो रहा तो उन्होंने कहा कि यही हमारी विवशता है. सरकार का काम निष्पक्ष होकर काम करना है. 2014 से देख लें कि यहां के लोगों ने सामाजिक सौहार्द कौन सी भूमिका निभायी है.

यह भी पढ़े  तेजप्रताप को थप्पड़ मारने पर एक करोड़ का इनाम , बिहार में राजनीतिक बवाल तय

इससे पहले गिरिराज सिंह शनिवार को बजरंग दल के संयोजक जितेंद्र प्रताप जीतू और विश्व हिंदू परिषद के जिला अध्यक्ष कैलाश विश्वकर्मा से मिलने नवादा स्थित मंडल कारा पहुंचे थे. गिरिराज सिंह ने कहा था कि पुलिस की यह कार्रवाई लोगों को उकसाने का काम कर रही है. शासन हिंदुओं को प्रताड़ित करने का काम कर रही है. शासन और प्रशासन को कोसते हुए कहा कि हिंदुओं पर डंडे चला कर समाज में सदभावना कायम नहीं किया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here