हत्या के बाद मॉब लिंचिंग से सहमा नालंदा

0
100

राजद नेता समेत तीन लोगों की हुई हत्या के बाद जहां लोगों के बीच कोहराम मचा है वहीं डीआईजी निर्देश पर दण्डाधिकारी व डीएसपी के नेतृत्व में दीपनगर के मघड़ासराय पुलिस छावनी में तब्दील है। हालांकी घटना के बाद दोनों पक्षों के बीच तनाव व्याप्त है। पुलिस घटना में संलिप्त आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कई थानों की पुलिस छापेमारी करने में जुटी है। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो दीपनगर के मघड़ासराय मंगलवार की रात से हीं रणक्षेत्र में तब्दील है। रात में राजद नेता की हत्या की गई। वहीं विरोध में गुसाई भीड़ ने दर्जनों घरों पर हमला बोल दिया तथा घर में घुसकर दो युवकों को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार किया। इस घटना के बाद पुलिस की नींद खुली। बताया जाता है कि मॉब लिंचिंग की घटना बुधवार की सुबह में हुई। भीड़ ने दोनों को बुरी तरह से पीटा। जिससे युगल यादव के 35 वर्षीय पुत्र रंजन कुमार की घर में ही मौत हो गयी। दूसरा संटी मालाकार ने पटना ले जाने के दौरान दम तोड़ दिया। दर्जनभर घरों पर हमला कर तोड़फोड़ की। एक घर में आग भी लगी। हालांकि लोगों का कहना है कि घर के ही लोगों ने आग लगायी। इधर किशोरों की मौत के बाद गुस्सायी भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया। रोड़ेबाजी की और पुलिस गाड़ियों को क्षतिग्रस्त कर दिया। गोली मारकर की गई हत्यामघड़ासराय गांव निवासी स्व. रामपाल पासवान के 35 वर्षीय पुत्र इंदर कुमार उर्फ इंदल पासवान राजद अनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ के जिला महासचिव थे। सोमवार की रात 11 बजे काकोबिगहा गांव में बदमाशों ने उनपर गोलियों की बौछार कर दी। एक गोली सीने में लगी और उनकी मौत हो गयी। घटना की जानकारी पाते ही लोग उग्र हो गये। तड़के सैकड़ों लोगों ने कथित रूप से आरोपितों के घर पर हमला कर दिया। ईंट-रोड़ों की बौछार कर दी। जान बचाने के लिए घर के लोग घर छोड़कर भाग निकले।आक्रोशित लोगों ने घर में घुस दिया घटना को अंजाम : भीड़ ने घरों में घुसकर मारपीट की। 16 वर्षीय सिंटू मालाकार को बेरहमी से पीटा। पुलिस उसे लेकर सदर अस्पताल ले गयी। वहां से पटना रेफर किया गया। आधे रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। इधर दूसरे घर में घुसकर भीड़ ने युगल यादव के पुत्र 35 वर्षीय रंजन को पीट-पीटकर मार डाला। हैरानी की बात तो यह है कि भीड़ पुलिस के सामने मारपीट कर रही थी। इतना ही मृतक इंदर और रंजन की लाश भी उठाने नहीं दे रहे थे। सूचना पाकर डीएसपी के नेतृत्व में कई थानों की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। किसी तरह शवों को कब्जों में लिया गया और उसका पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में करा परिजन के हवाले किया गया। पूर्व रंजिश को लेकर हुई हत्या इंदर की हत्या के कई कारण सामने आ रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि सोमवार की शाम मघड़ासराय व काकोबिगहा गांव के युवकों के बीच झगड़ा हुआ था। उन्होंने युवकों को डांटकर उन्हें भगा दिया था। इसी लिए हत्या हुई। वहीं दोनों पक्षों के बीच पुराना विवाद भी सामने आया है। मृतक 35 वर्षीय रंजन के पिता और परिवार के लोग हत्या के आरोप में जेल में है। इसके अलावा शराब के धंधे में रुपये के लेनदेन का विवाद भी सामने आया है।पांच डीएसपी समेत पुलिस पदाधिकारी करेंगे छापेमारी डीआईजी राजेश कुमार, एसपी सुधीर कुमार पोरिका ने गांव का दौरा कर घटनास्थल की छानबीन की। डीआईजी ने कहा कि यह एक जघन्य अपराध है। दोषियों को पकड़कर फांसी की सजा दिलवाने का प्रयास किया जायेगा। 5 डीएसपी व दंडाधिकारियों के नेतृत्व में गांव में पुलिस तैनात की गयी है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी होगी। पुलिस सभी बिंदुओं को सामने रखकर छानबीन कर रही है।

यह भी पढ़े  निजाम बदलते ही बढ़ा भारत का दबदबा, राष्ट्रपति सोलिह की स्पीच में सिर्फ हिंदुस्तान का नाम

नालंदा : जिले के दीपनगर थाना क्षेत्र के मघड़ा गांव निवासी व्यवसायी व राजद नेता इंदल पासवान की गांली मार कर मंगलवार की रात हत्या कर दी गयी. मालूम हो कि इंदल पासवान दो दिन पहले ही राजद में शामिल हुए थे. घटनास्थल पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है. वहीं, नालंदा के एसडीपीओ ने कहा है कि ‘व्यक्तिगत दुश्मनी के कारण इंदल पासवान की गोली मारकर हत्या कर दी गयी है. हम मामले की जांच कर रहे हैं.’ वहीं, स्थानीय राजद नेता की गोली मारकर हत्या करने के आरोपित के 13 वर्षीय बेटे पर स्थानीय लोगों का गुस्सा बुधवार को फूट पड़ा. पिटाई के कारण बच्चे की मौत हो गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here