स्वच्छ बिहार अभियान में नहीं छूटे एक भी परिवार : श्रवण

0
47

लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के तहत एक भी परिवार नहीं छूटे, इसका खास ख्याल रखना है। लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान माननीय मुख्यमंत्री का एक महत्वपूर्ण अभियान है। प्रत्येक परिवार को इस योजना का लाभ दिया जायेगा। इस जिले के प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा संबंधित अधिकारी और कर्मी इस अभियान को शीघ्रताशीघ्र पूर्ण कराये। सूबे के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग सरकार का एक अत्यंत ही महत्वपूर्ण विभाग है। आप सभी अधिकारी बेहतर कार्य कर इस विभाग के लक्ष्यों को शत-प्रतिशत पूर्ण कराने में भागीदारी सुनिश्चित करें। वे आज समाहरणालय सभागार में आयोजित ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत कार्यान्वित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। मंत्री ने बारी-बारी से प्रधानमंत्री आवास योजना ट्ठग्रामीण), लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान, जल शक्ति अभियान, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना, मुख्यमंत्री वास स्थल क्रय सहायता योजना, मनरेगा, जीविका, बीमा योजना, सामाजिक सुरक्षा योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, सतत जीविकोपार्जन योजना सहित अन्य योजनाओं का प्रखंडवार समीक्षा किया गया। उन्होंने आवास निर्माण योजना में तेजी लाने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति के लिए आवास अति आवश्यक है। जिन लोगों का अपना घर नहीं होता है वे बहुत ही कष्टप्रद जीवन व्यतीत करते हैं। इसलिए जिले के आवासविहीन परिवारों को हर हाल में आवास मुहैया करायी जाय। उन्होंने उप विकास आयुक्त को निदेश दिया कि जहां आवास निर्माण नहीं हुआ है वहां सभी स्तर के पदाधिकारियों को ले जाकर फिजिकल वेरिफिकेशन कर लाभुक से बात कर वस्तुस्थिति से अवगत हो तथा उनकी समस्याओं का हर हाल में निपटारा करें। उन्होंने कहा कि लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के अंतर्गत अबतक जितना जियोटैग हो गया है उन सभी का भुगतान 15 दिनों के अंदर करना सुनिश्चित करें। उन्होंने हाट-बाजारों, सरकारी कार्यालयों तथा अन्य सार्वजनिक स्थलों पर सामुदायिक शौचालय के निर्माण पर भी जोर दिया। इंदिरा आवास की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि लाभुकों को सही समय पर प्रोत्साहन राशि हर हाल में मुहैया करायी जाय। उन्होंने कहा कि अगर किसी को प्रथम किस्त ही नहीं मिला है तो वह आवास निर्माण का कार्य आगे कैसे बढ़ायेगा। प्रथम किस्त की राशि देने के पश्चात भौतिक सत्यापन कराकर उसे द्वितीय और फिर तृतीय किस्त का प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करायी जाय। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही, अनियमितता करने वाले पदाधिकारियों कर्मियों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उप विकास आयुक्त ने मंत्री को आास्त किया कि उनके निर्देशों का अक्षरश: अनुपालन तय समय सीमा में अवश्य कर दिया जायेगा। बैठक में डीआरडीए के निदेशक राजेश कुमार, मंत्री के आप्त सचिव, कौशलेन्द्र कुमार के अलावे विभिन्न प्रखंडो के बीडीओ सीओ एवं सभी मनरेगा पीओ आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  अमित शाह की रैली के बाद गाड़ियों में तोड़फोड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here