स्मार्ट फोन की खरीदगी में अनियमितता नहीं : मोदी

0
65

राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि किसी भी प्रकार के प्लास्टिक उत्पाद जैव अविघटनकारी होते हैं जो जलाने पर विषाक्त गैसों का उत्सर्जन करते हैं। इससे जमीन की ऊर्वरता निरन्तर कम होती है और जहां-तहां फेंकने से नालियां जाम हो जाती हैं। इसलिए राज्य सरकार ने एक बार इस्तेमाल कर फेंक दिए जाने वाले थर्मोकोल के उत्पादों को प्रतिबंधित करने का काम किया है। इससे एक लाभ यह भी होगा कि पत्तलों समेत अन्य वैकल्पिक उत्पादों को बढ़ावा भी मिलेगा। श्री मोदी आज विधान परिषद् में राजद के संजय प्रसाद के तारांकित सवाल का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि थर्मोकोल के उत्पाद व एक बार उपयोग कर देने वाले प्लास्टिक अक्सर उपयोग कर फेंक दिए जाते हैं। इससे कई तरह के संकट उत्पन्न हो जाते हैं। यहां तक कि पशु प्लास्टिक खा लेते हैं तो उनके जीवन को भी खतरा उत्पन्न होता है। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने प्लास्टिक कैरी बैग के निर्माण, आयात, भंडारण, परिवहन एवं उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के एकल उपयोग करने वाले डिस्पोजेबल प्लास्टिक एवं थर्मोकोल उत्पाद जो जैव-अविघटनकारी होते हैं, उस पर भी प्रतिबंधित करने का प्रस्ताव विचाराधीन है। ‘‘33 आरा मिल मालिकों पर हुई कानूनी कार्रवाई’राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि सुगौली थाना में अवैध रूप से चलायी जा रही बारह आरा मिल संचालकों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। श्री मोदी आज परिषद् में विधान पार्षद सतीश कुमार के तारांकित प्रश्न का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि सुगौली थाना के अतिरिक्त भी पूर्वी चंपारण के अन्य 9 प्रखंडों में 21 अवैध आरा मिलों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि अवैध आरा मिलों के विरुद्ध बिना भेदभाव के कार्रवाई की जाती है।
राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि स्मार्ट फोन की खरीदगी में कोई अनियमितता नहीं हुई है। अब राज्य सरकार कोई भी खरीदगी जेम पोर्टल के द्वारा करती है, जिसे केन्द्र सरकार ने विकसित किया है। राजद विधान पार्षद रामचंद्र पूव्रे जब अपने अल्पसूचित प्रश्न के दिये गये समाज कल्याण मंत्री रामसेवक सिंह के उत्तर से असंतुष्ट हुए तो उप मुख्यमंत्री उन्हें राज्य सरकार के कदम से संतुष्ट कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जब कोई समान खरीदने की बात होती है तो जेम पोर्टल पर जाया जाता है। उस पोर्टल पर खरीदने वाले सामान के कई प्रकार आते हैं। उनके मूल्य अलग-अलग होते हैं। स्मार्ट फोन के मूल्य फीचर पर घटते-बढ़ते हैं। राज्य सरकार को जिन फीचर का स्मार्ट फोन चांिहए उसमें जो कंपनी एल-1 होती है उन्हीं से खरीद की जाती है। इसलिए कोई अनियमितता नहीं हुई है। इसके पूर्व समाज कल्याण मंत्री रामसेवक सिंह ने कहा कि स्मार्ट फोन 9990 रुपये में खरीदा गया है। यह खरीदगी एल-1 कंपनी से की गई है जिसका रेट सबसे कम था। इस पर राजद विधान पार्षद ने कहा कि बाजार में यह फोन सात हजार रुपये में मिलता है। एम्बुलेंस खरीदने की जरूरत नहीं : उपमुख्यमंत्रीराज्य के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि कल्याण घरों में रहे रहे बच्चे व महिलाओं के अकस्मात बीमार पड़ने पर चिकित्सकों से दिखाने के लिए एम्बुलेंस खरीदने की जरूरत नहीं है। अब तो बुलाने पर कहीं भी 10 मिनट में एम्बुलेंस घर तक पहुंचने लगा है। भाजपा विधान पार्षद प्रो. नवल किशोर जब समाज कल्याण मंत्री रामसेवक सिह के द्वारा अल्पसूचित प्रश्न के जवाब से असंतुष्ट नजर आये तो उपमुख्यमंत्री ने एम्बुलेंस खरीद को लेकर अपनी बात रखी। इसके पूर्व समाज कल्याण मंत्री श्री सिंह ने कहा कि देर रात महिलाओं व बच्चों की तबियत बिगड़ने पर उन्हें उपलब्ध निजी वाहनों/एम्बुलेन्स से उपचार हेतु अस्पताल ले जाया जाता है। इसके व्यय का वहन राज्य सरकार करती है। इस पर विधान पार्षद श्री यादव ने कहा कि एम्बुलेंस दे दिया जाता तो ठीक रहता। 

यह भी पढ़े  नीतीश कुमार-अमित शाह की मुलाकात से पहले जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक इस वजह से है अहम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here