स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना में लायें तेजी:डीएम

0
38

पटना – जिलाधिकारी कुमार रवि की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में सात निश्चय योजनाओं की प्रगति से संबंधित समीक्षात्मक बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री के निश्चय आर्थिक हल युवाओं के बल अंतर्गत स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की समीक्षा के क्रम में निर्देश दिया कि लक्ष्य के आलोक में की गई कार्रवाई संतोषप्रद नहीं है। युद्ध स्तर पर कार्रवाई कर स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के लक्ष्य को पूरा किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि शहरी क्षेत्र में कैम्प आयोजन की तिथि निर्धारित की जाये। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि जो भी आवेदन प्राप्त हो रहे हैं, उसे युद्ध स्तर पर निष्पादित किया जाये। जिला योजना पदाधिकारी को निर्देश दिया कि साधारण कमियों के कारण जितने भी आवेदन कैंसिल किये गये हैं उनकी फिर से जांच कर कार्रवाई की जाये। कोई भी आवेदक अपनी मर्जी से आर्थिक हल युवाओं के बल निश्चय के अंतर्गत स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड, स्वयं सहायता भत्ता या कुशल युवा कार्यक्रम का चयन कर सकता है। समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि स्वयं सहायता भत्ता निश्चय में आवेदनों की संख्या बहुत कम है। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को स्वयं सहायता भत्ता योजना से संबंधित आवेदन को अधिक से अधिक संख्या में प्राप्त करने का निर्देश दिया। कुशल युवा कार्यक्रम की समीक्षा के क्रम में पाया कि इस माह में प्रगति बहुत ही कम है। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि कुशल युवा कार्यक्रम के लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु पंचायत स्तर पर इसे क्रियान्वित किया जाये। कार्यपालक अभियंता, लोक स्वास्य अभियंतण्रप्रमंडल, पूर्वी एवं पश्चिमी वित्तीय वर्ष 2017-18 एवं वित्तीय वर्ष 2018-19 के लक्ष्य के विरुद्ध प्रगति काफी धीमी है। कार्यपालक अभियंता, लोक स्वास्य अभियंतण्रप्रमंडल, पूर्वी एवं पश्चिमी से स्पष्टीकरण की मांग करते हुए सचिव, लोक स्वास्य अभियंतण्रप्रमंडल को पत्र भेजने का निर्देश दिया। हर घर नल का जल (ग्रामीण) में वित्तीय वर्ष 2018-19 में पंचायती राज विभाग से 935 तथा लोक स्वास्य अभियंतण्रविभाग से 988 कुल 1923 वार्ड एवं वर्ष 2017-18 में पंचायती राज विभाग में 1559 एवं लोक स्वास्य अभियंतण्रविभाग में 348 कुल 1907 वार्ड में हर घर नल का जल लगाया जाना है। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि हर हालत में लक्ष्य की प्राप्ति करें। सात निश्चय के कायरें को पूरा करने में किसी तरह की कोताही बरदाश्त नहीं की जायेगी। हर घर नल का जल, ग्रामीण योजना के अंतर्गत 2177 वार्ड के लक्ष्य के विरुद्ध 2158 वार्ड में कार्य प्रारंभ हुआ है तथा 933 वार्ड में कार्य पूर्ण है। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी शत-प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति करें तथा 15 दिनों के अंदर कार्य को पूर्ण करें। जिलाधिकारी ने बैठक में अनुपस्थित रहने के कारण बुडको के कार्यपालक अभियंता से 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण की मांग की है। हर घर नल का जल शहरी क्षेत्र में तथा हर घर पक्की नली गली शहरी क्षेत्र में तीन महीनों में नगर निकायों की उपलब्धि नगण्य रही है। जिलाधिकारी ने उप विकास आयुक्त को निर्देश दिया कि नगर निकायों के कार्यपालक पदाधिकारियों के विरुद्ध उपलब्धि नगण्य रहने के कारण प्रधान सचिव, नगर विकास को पत्र दिया जाये। शौचालय निर्माण घर का सम्मान निश्चय के अंतर्गत शहरी क्षेत्रों में 363 वाडरें को ओडीएफ (खुले में शौच से मुक्त) करने के लक्ष्य के विरुद्ध 201 वार्ड को ओडीएफ (खुले में शौच से मुक्त) घोषित किया गया है। उन्होंने निर्देश दिया कि शत-प्रतिशत वार्ड को ओडीएफ (खुले में शौच से मुक्त) घोषित किया जाये। मुख्यमंत्री की सात निश्चय योजनाओं में लक्ष्य के विरुद्ध कम से कम 80 प्रतिशत उपलब्धि प्राप्त की जाये। 80 प्रतिशत से कम उपलब्धि वालों पर कार्रवाई की जायेगी। बैठक में जिलाधिकारी कुमार रवि के अलावे उप विकास आयुक्त आदित्य प्रकाश, निदेशक ग्रामीण विकास अधिकरण अवधेश राम, जिला पंचायती राज पदाधिकारी विनोद आनन्द, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी सहित सभी संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  एनओयू का दीक्षांत समारोह आज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here