सीरीज बचाने उतरेगी विराटसेना दूसरा टेस्ट

0
59

सेंचुरियन – भारतीय क्रि केट टीम भले ही एक हार से खुद को मुकाबले से बाहर न मान रही हो लेकिन उसके लिए दक्षिण अफ्रीकी टीम को उसके गढ़ सेंचुरियन में दूसरे क्रि केट टेस्ट में हराकर सीरीज बचाना बड़ी चुनौती साबित होने वाली है। भारत और दक्षिण अफ्रीका शनिवार से सेंचुरियन के मैदान पर दूसरे क्रि केट टेस्ट के लिए उतरेंगे जहां मेहमान टीम के लिए यह ‘‘करो या मरो’ का मैच होगा तो मेजबान टीम के लिए 2-0 से सीरीज पर अपराजेय बढ़त बनाने का मौका जिसने पहले केपटाउन टेस्ट में चार दिन के भीतर 72 रन से जीत अपने नाम कर बढ़त बना ली थी।स्टार खिलाड़ी विराट कोहली के नेतृत्व में टीम को वापसी के लिए आक्रामकता के साथ गलतियों में भी व्यापक सुधार करना होगा। केपटाउन की उछाल भरी तेज पिचों पर जहां भारतीय बल्लेबाजों ने पहले मैच में काफी संघर्ष किया था वहीं फिर से उसके सामने इसी तरह की पिच चुनौती साबित होने वाली है। अफ्रीकी कोच ओटिस गिब्सन पहले ही साफ कर चुके हैं कि सेंचुरियन की पिच भी तेज गेंदबाजों के लिए मददगार होगी और वह इस मैच में भी चार तेज गेंदबाजों को अंतिम एकादश में शामिल करने की रणनीति पर काम करेंगे जिससे भारतीय बल्लेबाजों पर खुद को साबित करने के साथ मैच बचाने की ज्यादा जिम्मेदारी होगी। कप्तान विराट इस बार भी विपक्षी टीम के लिए उनकी रणनीति के केंद्र में रह सकते हैं लेकिन बाकी बल्लेबाजों को भी अपना खेल बेहतर करना होगा। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि भारतीय टीम में विश्वस्तरीय खिलाड़ी हैं और उसने कई मौकों पर इस तरह की परिस्थितियों में खुद को साबित किया है लेकिन पिछले मैच में बल्लेबाजों के प्रदर्शन को देखें तो फिलहाल उसकी यही ताकत कमजोरी दिखाई दे रही है। टीम के स्टार बल्लेबाज विराट दोनों पारियों में 05 और 28 रन पर आउट हुए तो बाकी बल्लेबा भी निराश कर गए।पहली पारी में ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की 93 रन की पारी को छोड़ दें तो अन्य कोई बल्लेबाज अर्धशतक तक नहीं पहुंच सका। टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज और ओपनर मुरली विजय 01 और 13 रन पर जबकि चेतेश्वर पुजारा 26 और 04 रन पर आउट हुए तो मध्यक्रम में रोहित शर्मा भी अपनी बेहतरीन लय नहीं दिखा सके और 11 और 10 रन बनाकर सस्ते में आउट हुए। सेंचुरियन की पिच पर दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी हमले, उछाल भरी पिच पर एक बार फिर उसी स्थिति से निपटने के लिए बल्लेबाजों को कमर कसनी होगी। टीम की हार के साथ अब कप्तान विराट के बल्लेबाजी क्रम चयन पर भी सवाल उठ रहे हैं ऐसे में दूसरे मैच में क्रम में कुछ बदलाव संभव है। वैसे नेट अभ्यास में केपटाउन में बेंच पर बैठे लोकेश राहुल, अजिंक्या रहाणो, पार्थिव पटेल और ईशांत शर्मा के जोर शोर से हिस्सा लेने पर साफ है कि सेंचुरियन में उनके लिए एकादश का रास्ता खुल सकता है। विराट ने पहले मैच में पांड्या की जमकर तारीफ की थी और कप्तान के वह पसंदीदा भी माने जाते हैं इसलिए उनका एकादश में निचले क्रम में स्थान फिलहाल सुनिश्चित ही लग रहा है वहीं आठवें नंबर पर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन अच्छे स्कोरर साबित होते रहे हैं और उन्हें भी बाहर बैठाना आसान नहीं होगा। यह भी देखना दिलचस्प होगा कि पहले मैच में फ्लॉप रहे ओपनर शिखर धवन और मध्यक्रम के रोहित को बाहर बैठा कर राहुल और रहाणो को मौका दिया जाता है या नहीं। बल्लेबाजी जहां टीम के लिए चिंता की बात है वहीं उसके तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन सुकून देने वाला और संतोषजनक रहा है।

यह भी पढ़े  रोहित के तूफानी शतक के बाद कुलदीप-चहल की जोड़ी ने किया कमाल, टीम इंडिया 88 रन से जीती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here