सीट शेयरिंग में बिहार में बड़े भाई की भूमिका में ही होगी पार्टी

0
55

बिहार में एनडीए में शामिल दलों में आगामी लोकसभा चुनाव में सीट शेयरिंग को लेकर मचे घमासान के बीच जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने ये स्पष्ट कर दिया है कि जदयू बिहार में बड़े भाई के रूप में ही चुनाव लड़ेगी। यह बयान तब आया है जब कल जदयू की दिल्ली में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की महत्वपूर्ण बैठक होने वाली है और अगले सप्ताह बीजेपी के राष्टीय अध्यक्ष अमित शाह बिहार दौरे पर आ रहे हैं।

जदयू ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह अगले साल के लोकसभा चुनावों में बीजेपी को 22 से ज्यादा सीटें देने को तैयार नहीं है। दिल्ली में आगामी लोकसभा चुनाव में सीट शेयरिंग को लेकर रणनीति तय की जाएगी, जिसमें किसे कितनी सीटें मिलनी चाहिए इस पर पूरा मंथन होगा।

केसी त्यागी ने यह भी कहा है कि लोकसभा में सीट शेयरिंग का मुद्दा सुलझा रहेगा तो फिर विधानसभा में चुनाव में भी दिक्कत नहीं आएगी।

यह भी पढ़े  राजद-जदयू में आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी , लालू ने कसा तंज जदयू ने किया पलटवार

दूसरी ओर जेडीयू नेता श्याम रजक ने भी कहा है कि नीतीश कुमार बिहार में एनडीए गठबंधन के मुख्य चेहरे के रूप में चुनाव लड़ेंगे। जेडीयू बिहार में बड़ा भाई है और नीतीश कुमार का काम भी बड़ा है और अगर बीजेपी अपने अच्छे काम का प्रचार-प्रसार करती है, तो यह पार्टी के लिए अच्छा परिणाम देगा।

बहरहाल, एनडीए गठबंधन के दलों के बीच सीट शेयरिंग के फॉर्मूले पर औपचारिक बातचीत अभी शुरू नहीं हुई है, लेकिन जल्द ही सीट शेयरिंग का मामला सुलझा लिया जाएगा। वहीं सूत्रों के मुताबिक 12 जुलाई को अमित शाह के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की होने वाली मुलाकात से सभी मतभेद दूर कर लिए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here