सिंचाई विभाग के इंजीनियर की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या की

0
126

हाजीपुर: बदमाशों ने यहां सिंचाई विभाग के इंजीनियर की गोली मारकर हत्या कर दी. यह घटना पटना-छपरा एनएच-19 पर सोनपुर थाना क्षेत्र के शिवबच्चन चौक की है. जानकारी के अनुसार, नेशनल हाइवे पर चलती कार पर कुछ बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. इस फायरिंग में इंजीनियर के सीने में गोली लग गई, जिससे उसकी मौत हो गई.

सूबे में अपराधियों का दुस्साहस बढ़ता जा रहा है। सोमवार की शाम सोनपुर थाने के शिवबच्चन सिंह चौक पर बाइक सवार अपराधियों ने जूनियर इंजीनियर की गोली मारकर हत्या कर दी। इंजीनियर वीरमणि पटना के कुर्जी में एक नंबर गेट निवासी सकलदेव राय के पुत्र थे और फिलवक्त हाजीपुर कृषि विभाग में प्रतिनियुक्ति पर तैनात थे।

घटनास्थल से सौ मीटर की दूरी पर सोनपुर थाने की पुलिस गश्त कर रही थी। इसके बावजूद अपराधी ताबड़तोड़ फायरिंग कर भाग निकले। सूचना पर पुलिस पहुंची और कार का शीशा तोड़कर अभियंता को बाहर निकाला।1 घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस की सूचना पर मृतक के परिजन रात तक घटनास्थल पर पहुंच चुके थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए छपरा सदर अस्पताल भेज दिया।

यह भी पढ़े  INDvsNZ: कानपुर में आज भारत और न्यूजीलैंड के बीच होगा हाईवोल्टेज मुकाबला

जानकारी के शाम साढ़े छह बजे जूनियर इंजीनियर वीरमणि अकेले ही हाजीपुर से दीघा के पूर्व मुखिया नीलेश प्रसाद राय की स्विफ्ट डिजायर कार से पटना जा रहे थे। जैसे ही वे हाजीपुर-छपरा एनएच-19 पर सोनपुर थाने के शिवबच्चन सिंह चौक के समीप पहुंचे, बाइक सवार अपराधियों ने उनकी कार पर ताबड़तोड़ फायरिंग की और वहां से भाग निकले। पुलिस उन्हें रेफरल अस्पताल सोनपुर लेकर आई जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

घटनास्थल से पुलिस ने एक खोखा बरामद किया है।1एक साल पहले हुई थी शादी : गोली लगने से कार की ¨वड स्क्रीन टूट गई। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि अपराधियों ने कार के सामने से गाड़ी चला रहे इंजीनियर पर गोली चलाई। घटना की सूचना मिलते ही सोनपुर एसडीपीओ पंकज कुमार शर्मा, एसआइ सुरेश प्रसाद सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। वीरमणि की दो बहनों की शादी भी सोनपुर थाना क्षेत्र में ही हुई है। सूचना पर जूनियर परिजन व पत्नी नीतू भी सोनपुर पहुंच गई। एक वर्ष पूर्व ही उनकी शादी हुई थी।

यह भी पढ़े  जुवेनाइल बोर्ड ने पटना गांधी मैदान और गया बोधि मंदिर ब्लास्ट मामले में सजा सुनाई

पूर्व मुखिया की गाड़ी से आते-जाते थे : घटनास्थल से बरामद कार पटना दीघा के पूर्व मुखिया नीलेश प्रसाद की है। परिजनों के अनुसार वीरमणि की कार काफी पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इस वजह से वे पूर्व मुखिया की लाल रंग की स्विफ्ट कार से ही पटना से आते-जाते थे। 1हर बिंदु पर जांच-एसडीपीओ : सोनपुर एसडीपीओ पंकज कुमार शर्मा ने बताया कि जूनियर इंजीनियर की हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल सका है। पुलिस हर ¨बदु पर मामले की जांच कर रही है। अपराधियों ने उन्हें काफी नजदीक से गोली मारी है। घटनास्थल से एक खोखा बरामद किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here