सवर्ण आरक्षण के मुद्दे पर महागठबंधन में बिखराव

0
89
PATNA LJP OFFICE MEIN SAVARNON KO 10% ARAKSHAN MILNE KI KHUSHI PER CELEBARATION AND P C

लोकजनशक्ति पार्टी के महासचिव व प्रवक्ता सुनील पांडेय व पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व सांसद सूरजभान सिंह ने कहा कि गरीब सवर्ण आरक्षण के मुद्दे पर महागठबंधन पूरी तरह से बिखर गया है। राजद ने विरोध किया जबकि बिहार में रालोसपा व कांग्रेस ने सवर्ण आरक्षण का समर्थन कर अपने मतभेद को सदन के पटल पर उजागर कर दिया। लोजपा नेता द्वय ने आज पार्टी कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इन नेताओं ने पार्टी की तरफ से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का शुक्रिया अदा करते कहा कि उन्होंने सच्चे अर्थो में यह साबित कर दिया कि एनडीए सबका साथ सबका विकास चाहता है। लोजपा प्रवक्ता सुनील पांडेय ने कहा कि दलित सेना ने 9 नवम्बर 1998 को ही गरीब सवर्ण आरक्षण की पक्षधरता लेते अपनी नीति साफ कर दी कि लोजपा सवर्णो के आरक्षण के पक्ष में है। 28 नवम्बर 2002 को जब लोकजनशक्ति पार्टी अस्तित्व में आई तब मैनिफेस्टों में ही गरीब सवर्ण आरक्षण की वकालत की थी। उन्होंने कहा कि गरीब सवर्ण आरक्षण के मामले पर राजद ने विरोध कर अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारी है। प्रधानमंत्री के इस निर्णय से एनडीए बिहार के 40 लोकसभा क्षेत्रों में मजबूत हो गई है और जनता का जो नया मिजाज देखने को मिल रहा है उससे लगता है कि महागठबंधन को एक भी सीट नहीं मिलने जा रही है। उन्होंने कहा कि अभी तो प्रधानमंत्री ने एक ही बिल लाया है। अभी आईटी. जीएसटी,किसान व बेरोजगारी के मामले में भी नये प्रयोग देखने को मिलेंगे। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सूरजभान सिंह ने कहा कि पूर्व सरकार ने जो काम 70 साल में नहीं किया वह कार्य नमो ने अपने पहले कार्यकाल में कर दिखाया। इस मौके पर विधायक राजू तिवारी,विधान पार्षद नूतन सिंह,पूर्व विधायक हुलास पाण्डेय, कार्यालय प्रभारी राजेन्द्र विश्वकर्मा,प्रदेश प्रवक्ता अशरफ अंसारी, श्रवण कुमार अग्रवाल, सौलत राही, कृष्णा सिंह कल्लू समेत कई अन्य नेता भी मौजूद थे।

यह भी पढ़े  वाहन जांच के दौरान लड़की का हाथ पकड़ खींची फोटो, मचा बवाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here