सरकार ने निजी क्षेत्र के संस्थानों के लिए खोला दरवाजा

0
12

स्वास्थ्य विभाग ने एक संकल्प के साथ निजी क्षेत्र के डेंटल व नर्सिंग संस्थानों के विद्यार्थियों के प्रशिक्षण के लिए सरकारी कॉलेजों का दरवाजा खोल दिया है. अब कोई भी निजी क्षेत्र में संचालित संस्थान इसका लाभ उठा सकते हैं.

राज्य के निजी क्षेत्र में संचालित होने वाले डेंटल कॉलेजों, नर्सिंग स्कूलों और पारा मेडिकल के विद्यार्थियों के लिए सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों और जिला अस्पतालों में प्रशिक्षण दिला सकते हैं. इसका लाभ अब वैसे निजी संस्थानों को मिलेगा जिनके पास इलाज कराने के लिए मरीज नहीं आते हैं. उनके विद्यार्थियों को मरीजों के इलाज का अनुभव मिलेगा. उनकी गुणवत्ता और अधिक बढ़ जायेगी.

विभाग द्वारा जारी संकल्प में कहा गया है कि निजी संस्थानों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को सरकारी अस्पतालों में मरीजों के इलाज के दौरान प्रशिक्षण (क्लिनिकल ट्रेनिंग) के लिए निर्धारित शुल्क देय होगा.

यह हर सत्र के लिए निर्धारित किया गया है. इसका लाभ राज्य के करीब चार निजी क्षेत्र के डेंटल कॉलेजों के करीब 200 से अधिक छात्र छात्राओं को मिलेगा. अब तक निजी डेंटल कॉलेजों द्वारा सरकार के किसी मेडिकल कॉलेज के साथ एमओयू कर इस तरह का प्रशिक्षण दिलाया जाता है.

यह भी पढ़े  दशहरा और छठ पूजा पर यात्रियों की भीड़ के मद्देनजर रेलवे तैयार

इसी तरह से राज्य में कुल 90 सरकारी व निजी क्षेत्र की एएनएम स्कूल संचालित हैं. यहां पर करीब 3000 हजार नर्सों को प्रशिक्षण दिया जाता है. राज्य में कुल 22 जीएनएम स्कूल हैं. यहां पर करीब 800 से अधिक छात्राओं को प्रशिक्षण दिया जाता है. राज्य में करीब हर साल 500 से अधिक पारा मेडिकल, फिजियोथैरेपी एवं ऑक्युपेशनलथैरेपी के विद्यार्थियों का नामांकन होता है.
अब संस्थानों में शिक्षा पाने वाले विद्यार्थियों को मरीजों के इलाज के दौरान प्रशिक्षण मिलने की सुविधा उपलब्ध हो गयी है.

कोर्स के लिए निर्धारित राशि

1. डेंटल कॉलेज स्टूडेंट
सामान्य व बीसी कोटि- 10 हजार प्रति सत्र, ईबीसी, एससी व एसटी कोटि – 4000 प्रति छात्र, प्रति सत्र
2. एमएससी नर्सिंग,

पारा मेडिकल
सामान्य व बीसी कोटि- 3500 रुपये प्रति छात्र , ईबीसी, एससी व एसटी कोटि – 1500 प्रति छात्र, प्रति सत्र

3. बीएससी नर्सिंग, फिजियोथैरेपी, ऑकुपेशनलथैरेपी, सभी पारा मेडिकल
सामान्य कोटि- 2500 रुपये प्रति छात्र, प्रति सत्र, ईबीसी, एससी व एसटी कोटि – 1000 रुपये प्रति छात्र, प्रति सत्र

यह भी पढ़े  बिहार में क्रिकेट के जल्द बहुरेंगे दिन, जोर शोर से तैयारी में जुटा बीसीए

4. जीएनएम नर्सिंग सामान्य कोटि
2500 रुपये प्रति छात्र, प्रति सत्र
ईबीसी, एससी व एसटी कोटि – 1000 रुपये प्रति छात्र, प्रति सत्र

5. डिप्लोमा सर्टिफिकेट कोर्स
सामान्य कोटि- 2000 रुपये
ईबीसी, एससी व एसटी कोटि – 800 प्रति छात्र, प्रति सत्र

6. एएनएम नर्स
1000 रुपये सामान्य कोटि
ईबीसी, एससी व एसटी कोटि – 400 प्रति छात्र, प्रति सत्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here