सदन ने सीता साहू में जताया विश्वास ,औंधे मुंह गिरा अविास प्रस्ताव

0
21
PATNA PATNA MAYOUR SITA SAHU KE KHLAF AVISWAS PARASTAO PER CHERCHA KE BAD VOTING MEIN SITA SAHU KI JEET HUVI TATHA MAUPUR KI KURSHI PHIR SE SAMBHALI

नगर निगम के सियासी खेल में मेयर सीता साहू के खिलाफ लाया गया अविास प्रस्ताव बुधवार को औंधे मुहं गिर गया। 26 पार्षदों के हस्ताक्षर वाले अविास प्रस्ताव के विरोध में 10 वोट पड़े, जबकि पक्ष में मात्र दो वोट पड़े। इस तरह सीता साहू ही मेयर के चेयर पर काबिज रह गई। तमाम शंकाओं और र्चचाओं के बीच आज बांकीपुर अंचल सभागार में अविास प्रस्ताव पर पार्षद मनोज जायसवाल की अध्यक्षता में पहले र्चचा, फिर वोटिंग हुई। वोटिंग में मेयर ने सभी कयासों को धत्ता बताते हुए विास मत हासिल कर लिया। सियासी खेल का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वहां मौजूद 32 पार्षदों ने वोटिंग ही नहीं की।वोटिंग में शामिल नहीं हुए पप्पू25 जून को अविास प्रस्ताव की वोटिंग में हारने के बाद से शांत दिख रहे पूर्व डिप्टी मेयर विनय कुमार पप्पू बुधवार को मेयर के विरुद्ध अविास प्रस्ताव पर र्चचा और वोटिंग से गायव रहे। वह अविास प्रस्ताव में शामिल ही नहीं हुए। कहा जा रहा है कि अपनी हार को भांपते हुए पप्पू पहले ही मैदान से बाहर हो गए। वहीं निगम की राजनीति में अब इस बात की र्चचा भी शुरू हो चुकी है कि मेयर सीता साहू ने जानबूझकर खुद के खिलाफ अविास प्रस्ताव मंगाया था। क्योंकि उनके पास बहुमत का आंकड़ा था और उन्होंने विास मत हासिल कर अपनी कुर्सी अगले दो साल के लिए सुरक्षित कर ली।मेयर ने आरोपों को किया खारिजमेयर पर आए अविास प्रस्ताव पर र्चचा हुई, जिसमें विपक्ष की तरफ से पार्षद रवि प्रकाश और मेयर की तरफ से डॉ. आशीष कुमार सिन्हा ने भाग लिया। र्चचा के दौरान डॉ. आशीष ने मेयर सीता साहू के दो साल के कार्यकाल में निगम की उपलब्धियां गिनाई। उन्होंने कहा कि डोर टू डोर कचरा संग्रह, अत्याधुनिक उपकारणों और वाहनों की खरीद, शहर में बेहतर साफ-सफाई, एलईडी लाइट, वेस्ट टू एनर्जी प्लांट से 400 मेगावाट बिजली उत्पादन की तैयारी, कचरा की बिक्री से ढाई करोड़ की आय करना, निगम के चारों अंचलों में छोटी-बड़ी 3,469 योजनाओं का क्रियान्वयन, 25.30 किलोमीटट सड़कों का निर्माण, स्मार्ट सिटी में नगर निगम की मुख्य भूमिका, मल्टी लेवल पार्किग, आउट सोर्सिग जैसी कार्य किए गए हैं। शहर की सूरत बदली है। जबकि रवि प्रकाश ने अविास प्रस्ताव में मेयर पर लगे पार्षदों के साथ भेदभाव, मेयर के असफल नेतृत्व के कारण नगर निगम के विकास की गति में कमी और निगम में आउट सोर्सिग की बदहाली को सिद्ध करने की कोशिश की। इन दोनों के बाद मेयर ने अविास प्रस्ताव के मुद्दे पर खुद अपनी बात रखी और अपने पर लगे आरोपों को सिरे से खारिज किया।जीत के जश्न में बंटीं मिठाइयांमेयर के समर्थक बड़ी संख्या में पहले से ही बाहर खड़े थे, जो पलपल भीतर की खबर ले रहे थे। सीता साहू के जीत की खबर मिलते ही बैंड-बाजे के साथ लोग गेट पर पहुंचे और जय-जयकार के नारे लगाने लगे। मेयर को लोगों ने फूल-मालाओं से स्वागत किया। जीत की खुशी में मिठाईयां बंटी।

यह भी पढ़े  पुलवामा में जवानों पर आतंकी हमले से देश में गहरा रोष और शोक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here