सजायफ्ता का अध्यक्ष बनना लोकतंत्र का अपमान : मंगल

0
7
PATNA PARA MEDICAL ASSOCIATION DUARA AYOJIT PROGRAMME MEN HEALTH MINISTER MANGAL PANDEY

पटना : राजद नेता लालू प्रसाद यादव को पार्टी का फिर से ताज पहनाए जाने पर भाजपा की तरफ से जमकर कटाक्ष हो रहा है। दसवीं बार राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने वाले लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए स्वास्य मंत्री मंगल पांडेय ने इसे लोकतंत्र का अपमान बताया है। उन्होंने कहा कि एक सजायफ्ता का किसी राजनीतिक पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनना लोकतंत्र की हत्या करने के समान है। श्री पांडेय ने कहा कि राजद एक प्रस्ताव पारित कर लालू को आजीवन अध्यक्ष घोषित कर दे ताकि चुनाव की आवश्यकता नहीं पड़े। श्री पांडेय ने लालू प्रसाद के सिपहसालार बने शिवानंद तिवारी के बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जब नामांकन औपचारिकता मात्र ही था तो परिणाम भी घोषित क्यों नहीं कर दिया गया। उन्होंने कहा कि दरअसल राजद में ‘‘वन मैन शो’ वाली बात है। इसलिए उनके सिपहसालार उन्हें सलाह-मशविरा नहीं देते बल्कि उनकी चाटुकारिता कर‘‘मिठ्ठू’ बने रहते हैं। उन्होंने कहा जो व्यक्ति एवं उनका पूरा परिवार केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई), प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और आयकर(आईटी) के ‘‘रडार’ पर हो उसे संविधान सम्मत अध्यक्ष बनने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि राजद के नेता ऐसे लोगों से प्रेरित होकर बिहार में राजनीति करना चाहते हैं, जिसकी खुद की कोई गारंटी नहीं है। जो खुद चुनाव नहीं लड़ सकता वह कैसे चुनाव के लिए खड़ा कर पायेगा। श्री पांडेय ने लालू प्रसाद के नामांकन पर चुटकी लेते हुए कहा कि जो पार्टी ‘‘कंपनी’ की तरह चलती हो, जिसमें लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं हो, उस दल में चुनाव, नामांकन और वोटिंग का कोई अर्थ नहीं रहता। यह सिर्फ जनता की नजरों में वाहवाही लूट खानापूर्ति करना है। उन्होंने कहा कि राजद में कोई कितना भी हाथ पैर मार ले, लेकिन सात जन्म में भी न तो वह राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकेगा और न ही मुख्यमंत्री का उम्मीदवार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here