शिवहर से जेडीयू विधायक शर्फुद्दीन की तस्वीर वायरल

0
60

देश में कई नेता कभी-कभार ऐसी हरकतें कर जाते हैं जो न सिर्फ उनके खुद के लिए शर्म का सबब होती हैं, बल्कि देश और समाज भी उस पर शर्मिंदगी महसूस करता है. बिहार में शिवहर से JDU विधायक शर्फुद्दीन अपनी ऐसी ही एक करतूत की वजह से वायरल हो रहे हैं. उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया में सुर्खियां बटोर रही हैं, लेकिन शर्म करो, शर्म करो के शोर के बीच वे ढिठाई से खड़े हैं.

सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल
दरअसल शिवहर से जेडीयू विधायक शर्फुद्दीन की जो तस्वीर वायरल हो रही हैं उसमें वे तिरंगे झंडे को सलामी देते वक्त अपने गाल पर हाथ रखे हुए हैं. न चेहरे पर शिकन और न ही कोई शर्मिंदगी का भाव. अन्य अधिकारी, नेता और कर्मी जहां झंडे को सलामी दे रहे हैं, उसी बीच में वे बिल्कुल ढिठाई से ऐसे गाल पर हाथ रखे हुए हैं, जैसे वे कह रहे हों कि हम तिरंगे झंडे से कोई मतलब ही नहीं.

यह भी पढ़े  दो फ्लाप नेता लंच करें या फिर डिनर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला : संजय

झंडोत्तोलन के दौरान तिरंगे का अपमान
तस्वीर स्वतंत्रता दिवस के मौके पर शिवहर जिला कार्यालय में तिरंगा फहराए जाने के दौरान की है. विधायक शर्फुद्दीन ने झंडे को सलामी देने की बजाए अपने हाथों को गाल पर रख रखा हुआ था.
दरअसल झंडो़त्तोलन का कार्यक्रम शुरू होते हीं सभी ने राष्ट्रध्वज को सलामी दी. विधायक शर्फुद्दीन भी मंच पर मौजूद थे और उनके चारों ओर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी और कर्मी राष्ट्रध्वज को सलामी दे रहे थे. लेकिन, JDU विधायक अपना हाथ को गाल पर रखे हुए थे.

यहां जिले के डीएम और एसपी तो तिरंगे को सलामी दे रहे हैं, लेकिन विधायक जी को सलामी देने में परेशानी हो रही थी. सलामी देने के बजाय वे ढिठाई से गाल पर हाथ देकर खड़े रहे. तस्वीर वायरल होने के बाद लोग सवाल पूछ रहे हैं कि संविधान की शपथ लेने वाले विधायक शर्फुद्दीन को तिरंगे की सलामी लेने में क्यों संकोच आ रही थी?

यह भी पढ़े  सीट शेयरिंग को लेकर भाजपा-जदयू में बनी अंडरस्टैंडिंग

गौरतलब है कि विधायक की इस ढिठाई पर न तो पार्टी की ओर से कोई सफाई आई है और न ही खुद विधायक ने अपनी करतूत के बारे में कुछ कहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here