वीर कुंवर सिंह के विजयोत्सव के मौके पर पटना, जगदीशपुर व आरा में होंगे ऐतिहासिक कार्यक्रम

0
33
MUKHY SACHIWALY ME PRESS CONFRENCE KO ADDRESS KERTE ANJANI KUMAR
राज्य सरकार ने बाबू वीर कुंवर सिंह के 160वें विजयोत्सव का ऐतिहासिक आयोजन करने का निर्णय लिया है. इसके तहत पटना, जगदीशपुर और आरा में विशेष कार्यक्रम होंगे और आजादी की लड़ाई को यादगार बनाने के लिए कई स्थान विकसित किये जायेंगे. यह जानकारी मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने मुख्य सचिवालय में आयोजित प्रेस वार्ता में दी. उन्होंने कहा कि पटना के वीर कुंवर सिंह पार्क में इस रणबांकुर की प्रतिमा का अनावरण किया जायेगा. यहां शिलापट्टों पर उनका जीवन वृतांत दर्शाया जायेगा.
इसके अलावा इस पार्क में बिहार के उन सभी वीर सपूतों की प्रतिमाओं और जीवन वृतांत को भी दर्शाया जायेगा, जिन्होंने आजादी की लड़ाई में अहम भूमिका निभायी थी. इस पार्क में 23 अप्रैल से रोजाना एक लेजर शो आयोजित किया जायेगा, जिसमें वीर कुंवर सिंह के जीवन को दर्शाया जायेगा. कुंवर सिंह की वीर भूमि जगदीशपुर में आजादी में दी गयी कुर्बानी की याद में एक विशाल द्वार बनाया गया है. उन्होंने कहा कि 25 अप्रैल को बापू सभागार में एक राष्ट्रीय स्तर का सेमिनार आयोजित किया जायेगा. इसमें वीर कुंवर सिंह के जीवन पर रिसर्च करने वाले तमाम जाने-माने विद्धानों का वक्तव्य होगा. जगदीशपुर स्थित संग्रहालय का जीर्णोद्धार किया जायेगा. साथ ही उनसे जुड़े जितने भी भवन और तालाब हैं, उन्हें नये सिरे से संवारा जायेगा. यहां एक गेस्ट हाउस भी बनाने की योजना है.
जगदीशपुर में आलीशान द्वार, राष्ट्रीय स्तर के सेमिनार समेत कई आयोजन
23 से पटना में रोजाना एक लेजर शो
23 से 25 अप्रैल के कार्यक्रम
-23 अप्रैल को शिवपुर घाट से जगदीशपुर किले तक शोभायात्रा
-इसी दिन जगदीशपुर किले में शोभायात्रा का सीएम, डिप्टी सीएम अगवानी और झंडोतोलन करेंगे
-जगदीशपुर स्थित संग्रहालय में पेंटिंग दीर्घा, जीवन से जुड़े अहम दस्तावेज और जीवनवृत्त होगा प्रदर्शित
-इसी संग्रहालय में मध्यकालीन हथियारों की प्रतिकृति स्थायी रूप से होगा प्रदर्शित
-जगदीशपुर के पास स्थित
दुलौर गांव में खेल महोत्सव होगा आयोजित, कुश्ती, घुड़सवारी, कबड्डी समेत अन्य प्रतियोगिता होगी
-विभिन्न विभागों की छह करोड़ की योजनाओं का होगा शिलान्यास
यह भी पढ़े  अब मजबूरी में कोई बाहर नहीं जायेगा इलाज कराने :मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here