विधायक पुत्र दीपक की मौत के मामले में जांच का दायरा बढ़ा

0
387

विधायक बीमा भारती के बेटे दीपक की संदिग्धावस्था में हुई मौत के मामले में पुलिस हत्या और हादसा दोनों बिंदुओं पर जांच कर रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद रेल एसपी इस मामले पर वरीय अधिकारियों से मंतण्रा कर चुके हैं। रेल पुलिस की विशेष टीम के साथ एसपी (रेल) सभी संभावित बिंदुओं पर जांच कर रहे हैं। इस बीच, पूर्णिया गयी रेल पुलिस की विशेष टीम साक्ष्यों को एकत्र कर पटना लौट आयी है। रेल पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार सिंह के मुताबिक पुलिस को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिल गयी है। रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस कई बिंदुओं पर जांच का दायरा बढ़ा चुकी है। पुलिस हर उस बिंदु पर जांच कर रही है जिस पर पुलिस को शंका है। मामले को सुलझाने के लिए मृतक के मोबाइल के टावर लोकेशन के साथ ही साथ उसके दोस्तों के टावर लोकेशन और टाइमिंग का पता लगाया जा रहा है। रेल एसपी के मुताबिक दोस्तों के बयान से यह तो साफ होता है कि दीपक का मोबाइल फोन मौके पर सुबह साढ़े छह बजे तक था। पुलिस को यह पता करना है कि घटना की रात कितने बजे से दीपक रेलवे ट्रैक के पास पड़ा था। उसके बाद उसके दोस्तों के मोबाइल फोन के टावर से टाइमिंग का पता लगाया जा रहा है। दोस्तों ने बताया था कि पुलिस के खदेड़े जाने के बाद दीपक दूसरी ओर भागा था और वे लोग अपने कमरे में चले आए थे। पुलिस को इस बिंदु को स्थापित करना है।पूर्णिया गयी पुलिस टीम पटना लौट आयी है। वहां पुलिस ने साक्ष्यों को एकत्र किया है। संदिग्धों का टावर लोकेशन भी लिया गया है। उसकी समीक्षा टीम के अधिकारी कर रहे हैं। इस मामले में आरोपितों व विधायक के पति के बीच की रंजिश का भी ब्योरा पुलिस टीम एकत्र कर रही है। एसपी (रेल) के मुताबिक इस मामले में पुलिस सभी बिंदुओं और शंका का समाधान करने के बाद ही किसी नतीजे पर पहुंच सकती है।

यह भी पढ़े  बोलेरो ने बाइक सवार को रौंदा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here