विधानसभा के सवालों का गलत जवाब देने वाले अधिकारियों पर गिरेगी गाज, होगी कार्रवाई

0
60

बिहार विधानसभा में मानसून सत्र चल रहा है. विधानसभा के प्रश्नकाल में आज 215 प्रश्न पूछे गए. इनमें से 113 प्रश्न ग्रामीण कार्य विभाग से जुड़े थे. पथ निर्माण से जुड़े 23 सवाल सदस्यों ने पूछे गए. वहीं, जल संसाधन मंत्री संजय झा के जवाब से विपक्ष असंतुष्ट है.

पूर्णिया के हाथी बंधा गांव में नदी के बांध के कटाव से जुड़ा सवाल है. 7 साल से हो रहे कटाव से 250 परिवार विस्थापित हुए हैं. हालांकि मंत्री ने कटाव की बात से इंकार किया तो अब्दुल सुबहान ने गलत बताया. विधानसभा अध्यक्ष ने वरीय अधिकारी से जांच का आदेश दिया है.

वहीं, सवालों के गलत जवाब देने पर नरेंद्र नारायण यादव ने कहा है कि विधानसभा अध्यक्ष ने जांच का आदेश दिया है. हमने अपने विभाग के सचिवालय के अधिकारी से जांच का आदेश दिया है. अधिकारियों की ओर से गलत जवाब दिया जाना गंभीर है.

नरेंद्र नारायण यादव ने कहा है कि सरकार इसको लेकर सचेत है, कार्रवाई की जाएगी. जेडीयू विधायक और पूर्व मंत्री रंजू गीता के सवाल का भी गलत जवाब दिया गया. सीतामढ़ी जिले की विधायक रंजू गीता वर्मा ने कहा है कि मैं 19 साल से जनप्रतिनिधी हूं और हमको गलत बताया गया है. गलत जवाब देने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई होनी चाहिए.

यह भी पढ़े  राबड़ी देवी समेत राजद के चार प्रत्याशियों ने दाखिल किये पच्रे

वहीं, आरजेडी विधायक आरजेडी विधायक राजेंद्र राम ने अधिकारियों पर नकेल कसने की मांग की. उन्होंने कहा कि बहुत मेहनत करके सदस्य सवाल करते हैं. हाल से कई बार गलत जवाब देखने को मिले हैं. गलत दवाब देना अधिकारियों की आदत बन गई है. ऐसे अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here