विधानमंडल का मानसून सत्र कल से, हंगामेदार होने के आसार

0
27

बिहार विधानमंडल का मानसून सत्र 20 जुलाई से शुरू होने वाला है. इसको लेकर बुधवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है. इस सत्र के शुरू होने के पहले ही सत्ताधारी दल और विरोधी दलों में बयानों के तीर चलने शुरू हो गए हैं. एक तरफ जहां विरोधी दल लॉ एंड ऑर्डर, सूखा और शराबबंदी कानून में संशोधन जैसे मुद्दे के बहाने सरकार को घेरने की तैयारी में है तो वहीं सत्ताधारी दल भी विरोधियों को जवाब देने के लिए कमर कस चुका है, यानि मानसून सत्र के हंगामेदार होने के पूरे आसार हैं. बुधवार को सर्वदलीय बैठक में राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि सदन चलाने की जिम्मेदारी सत्ता पक्ष की है. हम अपनी बातों को जोर शोर से उठाएंगे.

विधानमंडल का मानसून सत्र शुक्रवार से शुरू होगा। विधायकों के सवालों का जवाब देने के लिए सरकार ने पूरी तैयारी की है तो विपक्ष ने भी विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने की रणनीति बना रखी है। सत्ता पक्ष के सदस्य सरकार की उपलब्धियों और विकास कार्यों के जरिए उसकी काट करने की रणनीति बना रहे हैं। कुल मिलाकर मानसून सत्र के हंगामेदार होने के आसार हैं। 26 जुलाई तक चलने वाले इस सत्र के दौरान कुल 5 बैठकें होंगी। पहले दिन शुक्रवार को प्रथम अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा। इस पर वाद-विवाद व पारित कराने का कार्य 25 को होगा। शनिवार एवं रविवार होने से 21-22 को बैठकें नहीं होंगी। वहीं, 23-24 को शराबबंदी कानून में संशोधन समेत चार से अधिक विधेयक सदन में पेश होंगे और उन्हें पारित कराया जाएगा। .

यह भी पढ़े  लालू यादव को चारा घोटाले में सजा मिलने पर राजनितिक व्यान

कांग्रेस की बैठक 23 को : कांग्रेस विधानमंडल दल की बैठक दल के नेता सदानंद सिंह के हार्डिंग रोड स्थित सरकारी आवास पर 23 जुलाई को होगी। बैठक में बिहार कांग्रेस के प्रभारी महासचिव शक्ति सिंह गोहिल और कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादारी भी मौजूद रहेंगे। .

इस दौरान सदन के अंदर और बाहर कांग्रेस की क्या रणनीति होगी इसपर चर्चा होगी। .

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में जदयू विधायक दल की बैठक 20 जुलाई को होगी। ग्रामीण विकास और संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि शाम साढ़े छह बजे से शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा के आवास पर बैठक होगी। सदन में सभी महत्वपूर्ण विषयों पर होने वाली चर्चा में सरकार के पक्ष में अपनी बात रखने और सत्र के दौरान सदन में अवश्य उपस्थित रहने को लेकर निर्देश दिये जाएंगे। वहीं, भाजपा विधानमंडल दल की बैठक 20 जुलाई के बाद ही होगी। .

मुख्य विपक्षी दल राजद विधायक दल सत्र के दौरान राजद सूखा, अपराध, भ्रष्टाचार एवं शराबबंदी कानून में संशोधन के मुद्दे पर सदन के अंदर सरकार को घेरने की कोशिश करेगा। विधानसभा में निवेदन समिति के सभापति और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा कि पार्टी विधायक दल की बैठक 19 जुलाई यानी गुरुवार को होगी। इसमें आगे की रणनीति तय होगी। पार्टी महिला उत्पीड़न, शराबबंदी व बालूबंदी आदि मुद्दों को प्रमुखता से उठाएगी। .

यह भी पढ़े  15 जून तक पूरा करें मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन

विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले बुधवार को अपने कार्यालय में विभिन्न दलों के नेताओं के साथ बैठक करते विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी। साथ में मंत्री श्रवण कुमार, बिजेंद्र यादव, राजद के ललित यादव, लोजपा के राजू तिवारी व अन्य ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here