विद्यालयों में बंद न हो मध्याह्न भोजन :जिलाधिकारी

0
30

पटना। जिलाधिकारी कुमार रवि की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में शिक्षा विभाग की उच्च स्तरीय समीक्षात्मक बैठक हुई जिसमें उन्होंने शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत जिला प्रशासन द्वारा विशेष अभियान के तहत लॉटरी के माध्यम से चयनित ऐसे अभिवंचित वर्ग के बच्चे जिनका नामांकन दूरी अथवा अन्य कारणों से नहीं हो पाया है, उनके संबंध में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी द्वारा ऐसे लॉटरी के माध्यम से चयनित अभिवंचित वर्ग के बच्चों से प्राप्त किये गये विकल्प को यथासंभव सॉफ्टवेयर में प्रविष्ट कर नजदीक के विद्यालय में नामांकन कार्य पूर्ण कराने का निर्देश जिला कार्यक्रम पदाधिकारी सर्व शिक्षा अभियान को दिया। जिलाधिकारी ने सर्व शिक्षा अभियान में असैनिक कार्य में वित्तीय वर्ष 2011-12, 2012-13, 2013-14 एवं 2014-15 से लंबित अतिरिक्त कक्षा ग्रामीण-711 एवं शहरी क्षेत्र -118 अंतर्गत कुल 829 लंबित अतिरिक्त वर्ग कक्षा के निर्माण के संदर्भ में काफी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने वैसे शिक्षक पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया, जिन्होंने अतिरिक्त वर्ग कक्षा निर्माण के लिए राशि की निकासी कर ली है एवं कार्य पूर्ण नहीं कराया है। जिला पदाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि राशि गबनकर्ता शिक्षक पर प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश के उपरांत भी यदि 30 जून 2018 तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की जाती है, तो संबंधित प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी की संलिप्तता मानते हुए उन पर कार्रवाई की जायेगी। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना को शीघ्र वैसे मामले में कार्रवाई का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी द्वारा ब की समीक्षा में सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों को सतत निरीक्षण करने एवं कर्मियों को पूरा करने का निर्देश दिया। उन्होंने शत प्रतिशत नामांकन एवं बच्चियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि कस्तुरवा गांधी बालिका विद्यालय की बच्चियों के स्वास्य की जांच महिला चिकित्सक से प्रत्येक माह करवाएं तथा प्रत्येक तीन माह पर महिला डॉक्टर की प्रतिनियुक्ति कराकर बालिकाओं का जांच करवाएं। समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि कस्तुरबा गांधी बालिका विद्यालय घोसवरी की स्थिति संतोषजनक नहीं है तथा गवन का मामला भी प्रकाश में आया है। जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को निर्देश दिया कि संबंधित एनजीओ (अंबेदकर विकास समिति) के संचालन से मुक्त कर नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई करें। जिलाधिकारी ने वैसे कनीय अभियंताओं को जो अग्रिम लेकर कक्षा निर्माण के कुछ कार्य को छोड़ दिया है, निर्देश दिया कि 30 जून तक हर हालत में काम पूरा कर लें। अन्यथा संबंधित कनीय अभियंता के वेतन वृद्धि जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना द्वारा रोक लगायी जायेगी। मध्याह्न भोजन योजना के संदर्भ में जिलाधिकारी द्वारा आदेश दिया गया कि किसी भी विद्यालय में मध्याह्न भोजन बंद नहंीं होना चाहिए। सतत निरीक्षण कर साफ-सफाई एवं खाना के गुणवा का निरीक्षण करने का निर्देश दिया। योजनाओं की राशि जो छात्र/छात्राओं के खाता में हस्तांतरित किये जाते हैं, उसके संदर्भ में समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि शत प्रतिशत बच्चों का खाता खुलवाकर राशि स्थानांतरण की कार्रवाई शीघ्र पूरी कर ली जाय। जिलाधिकारी ने अनुपस्थित कनीय अभियंता पालीगंज मेराज जौहर, प्रखंड विकास पदाधिकारी धनरूआ एवं पुनपुन योगेन्द्र कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी दुल्हिनबाजार एवं पालीगंज अजीत कुमार भगत, विद्यालय अवर निरीक्षक गोलघर सविता कुमारी लक्ष्मी से स्पष्टीकरण पूछने के साथ-साथ आज 08 जून 2018 का वेतन स्थगित रखने का निर्देश दिया। बैठक में जिलाधिकारी कुमार रवि के अलावे जिला शिक्षा पदाधिकारी ज्योति कुमार, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी सर्व शिक्षा अभियान विभा कुमारी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी एमडीएम, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना, सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी एवं संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी उपस्थित थें।

यह भी पढ़े  एएन कॉलेज परिसर मैदान को विकसित करायेंगे : सांसद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here