विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर 10 दिसंबर को फैसला सुनाएगा लंदन का वेस्टमिंस्टर कोर्ट

0
103

लंदन का वेस्टमिंस्टर मैजिस्ट्रेट कोर्ट भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण मामले में 10 दिसंबर को फैसला सुनाएगा. विजय माल्या बुधवार को मामले की सुनवाई के लिए लंदन की अदालत में पेश हुआ था. माल्या पिछले साल अप्रैल में जारी प्रत्यर्पण वारंट के बाद से जमानत पर है. उसपर भारत में करीब 9 हजार करोड़ रुपये के धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोप हैं. बता दें कि वेस्टमिंस्टर कोर्ट में प्रत्यर्पण की सुनवाई के बाद माल्या ने एक बयान में दावा किया कि भारत छोड़ने से पहले उन्होंने मामला सुलझाने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की थी. माल्या के इस बयान के बाद सियासी सरगर्मियां बढ़ गई हैं. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला है

कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला और कहा कि इस पूरे प्रकरण पर ‘व्यापक स्पष्टीकरण तथा अधिक जांच’ की जरूरत है. पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने यह भी सवाल किया कि माल्या के बारे में सब कुछ पता होने के बावजूद उसे देश के बाहर क्यों जाने दिया गया? उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘कांग्रेस बार-बार कहती आ रही है माल्या, नीरव मोदी और कई अन्य लोगों को जानबूझकर बाहर जाने दिया गया. माल्या ने जो कहा है उस पर वित्त मंत्री की तरफ से और स्पष्ट एवं विस्तृत जवाब आना चाहिए.’

यह भी पढ़े  भारत ने रूस के साथ किया करार, अमेठी में लगेगी AK-203 असॉल्ट राइफलों की कंपनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here