लोगों को बेहतर सुविधा मुहैया कराने को सरकार दृढ़संकल्पित : नीतीश

0
244

छपरा – मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को कहा कि सूबे में शिक्षा, स्वास्य, सड़क, बिजली में उतरोत्तर सुधार एवं आम लोगों को जन सुविधाएं उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। इसके लिए राज्य में बड़े पैमाने पर बुनियादी संरचना का विकास भी किया जा रहा है। सरकार अपने इस दृढ़ निश्चय के संकल्प पर लगातार कार्य कर रही है कि से किसी भी जिला मुख्यालय से राज्य की राजधानी पटना महज पांच घंटे में लोग आ जा सकें। मुख्यमंत्री बुधवार को जिला मुख्यालय छपरा स्थित पुलिस लाइन के मैदान में बिहार राज्य पुल निर्माण विभाग एवं पथ निर्माण विभाग द्वारा आयोजित शिलान्यास एवं उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले नीतीश ने 41131.33 लाख रपए की लागत से छपरा शहर के गांधी चौक से नगरपालिका चौक के लिए डबलडेकर ओवरब्रिज निर्माण कार्य का शिलान्यास व 504.99 करोड़ रपए की लागत से निर्मित मोहम्मदपुर-छपरा एसएच पथ-90 का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार गांव व गलियों को सड़क से जोड़ने तथा प्रत्येक घर में जलापूर्ति के लिए नल जल की व्यवस्था करने के अपने दृढ़ निश्चय कार्यक्रम पर अमल कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार अपनी सभी योजनाओं को गुणवत्ता के साथ धरातल पर उतार रही है तथा इसकी मरम्मती एवं सुरक्षा का भी ख्याल कर रही है। पुल-पुलियों, नालियों व गलियों के निर्माण पर विशेष बल दे रही है ताकि विकास के रास्ते स्वत: खुलते रहें। जिस तरीके से आबादी बढ़ रही है और शहरों की तरफ लोग भाग रहे हैं उसको देखते हुए गांवों के विकास की प्राथमिकता के साथ-साथ जिलों से जोड़ने का भी प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार में संपूर्ण नशाबंदी के बाद सामाजिक जीवन में खुशहाली देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि दहेज प्रथा, बाल विवाह आदि सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ भी सरकार जनजागरण कर अपने अभियान को सफल बनाने की तरफ बढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार का सबसे बड़े पुल (जो दो मंजिला के रूप में बनेगा) के निर्माण से छपरा में आवागमन की समस्या दूर हो जाएगी तथा जिला का विकास तेजी से होगा। उन्होंने आम लोगों से योजनाओं के क्रियान्वयन में सहयोग देने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना को पूरा करने की कोशिश की जा रही है। पूरे राज्य में इस साल के अंत तक बिजली प्रत्येक घरों में पहुंचाने की बात कहते हुए नीतीश ने कहा कि टोला संपर्क योजना को मूर्त रूप दिया जा रहा है जहां उनकी बुनियादी समस्याओं पर कार्य किया जा रहा है। महिला सशक्तीकरण, बालिकाओं को शिक्षा में विशेष बढ़ावा दिया जा रहा है। लड़की के जन्म होने व स्नातक तक की शिक्षा ग्रहण करने पर कुल 54 हजार एक सौ रपए के अतिरिक्त लाभ दिए जा रहे हैं। समाज की कुरीतियों को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। अब सूबे का वातावरण बदल गया है। पहले वाली बात नहीं रह गई है। आज शराबी सुधर गए हैं। घरों के माहौल बदले बदले लग रहे हैं। उन्होंने कहा कि सामाजिक कुरीतियों के छुटकारा पाए बिना आगे नहीं बढ़ सकते और न ही विकास कर सकते हैं। समाज सुधार अभियान में लोगो के सहयोग की अपेक्षा है। समारोह की अध्यक्षता पथ निर्माण मंत्री ननद किशोर यादव ने किया। संबोधित करने वालो में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी,स्वास्य मंत्री मंगल पांडेय आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  नयी पीढ़ी के विकास और सोच से ही समाज में बदलाव आयेगा :मुख्यमंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here