लालू प्रसाद ने बिहार को गरीब बनाया : सुशील मोदी, पुस्तक ‘‘लालू-लीला’ का लोकार्पण आज

0
15
file photo

लालू परिवार पर केन्द्रित सुशील कुमार मोदी द्वारा लिखी पुस्तक ‘‘लालू-लीला’ का लोकार्पण लोकनायक जेपी की जयंती 11 अक्टूबर, 2018 को विद्यापति भवन के सभागार में होगा। लोकार्पण समारोह में केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, राधा मोहनसिंह, गिरिराज सिंह, रामकृपाल यादव, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नित्यानंद राय, बिहार सरकार के मंत्री प्रेम कुमार, नंद किशोर यादव, श्रवण कुमार, मंगल पाण्डेय, पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सांसद राजीव प्रताप रूडी व शाहनवाज हुसैन आदि मौजूद रहेंगे। इसके पहले श्री मोदी की आपातकाल के दौरान जेल यातना के संस्मरणों पर आधारित पुस्तक ‘‘बीच समर में’ तथा लालू प्रसाद के चारा घोटाले पर लिखी गयी पुस्तिका ‘‘चारा चोर, खजाना चोर’ खासी चर्चित रही है।
उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राजद को बिहार की गरीबी के बारे में संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट पढ़ने से पहले अपने 15 साल के उस शासन काल की आर्थिक दुर्दशा और वित्तीय कुप्रबंधन की रिपोर्ट पढ़नी चाहिए, जब राज्य का कर्ज बढ़ कर सन 2000 में ही 30932.45 करोड़ रुपये पहुंच गया था। गरीब परिवार से आये लालू प्रसाद ने बिहार को गरीब बनाया, लाखों लोगों को रोजी-रोटी के लिए पलायन-विस्थापन के लिए मजबूर किया, लेकिन अपने परिवार की गरीबी दूर कर सात पीढ़ियों के लिए सम्पत्ति अवश्य जुटा ली। 26 साल की उम्र में 26 सम्पत्ति के मालिक बनने वाले किस मुंह से गरीबों के मसीहा बन रहे हैं ।श्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की ताजा रिपोर्ट में भारत को फिर सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बताया गया है। उसमें दावा किया गया है कि 2018 में विकास दर 7.3 और 2019 में 7.4 फीसदी रहने का अनुमान है। एनडीए सरकार की यह विकास दर चीन के मुकाबले 0.7 फीसद ज्यादा है। पिछड़े परिवार से आने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से द्वेष के कारण राहुल गांधी को भारत की यह विकास दर दिखायी नहीं पड़ती।

यह भी पढ़े  अब हर साल होगा छात्र संघ का चुनाव :सुशील मोदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here