लालू परिवार के मॉल को ईडी ने किया सील

0
101

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रेलवे होटल टेंडर घोटाले के मामले में मंगलवार को बेली रोड स्थित सगुना रोड के पास लालू परिवार के निर्माणाधीन मॉल की संपत्ति को जब्त कर सील कर दिया है। मॉल के बाहर ईडी की ओर से एक नोटिस चस्पां कर संपत्ति को जब्त करने की सूचना दे दी गयी है। इस मामले की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई), आयकर विभाग और ईडी कर रही है।मॉल के गेट को सील करने के बाद ईडी के अधिकारियों ने रूपसपुर थाने में एक लिखित आवेदन भी दिया, जिसमें ईडी के सहायक निर्देशक नीतिन यादव ने बताया कि न्यायालय के आदेश (ओसी नंबर 861/2018) के अनुसार औपंबधिक रूप से संपत्ति जब्त की गयी है। बता दें कि इससे पहले भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने लालू परिवार के मॉल के निर्माण पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी थी। 750 करोड़ रुपये की कीमत वाली 115 कट्ठा जमीन पर लालू के पुत्र एवं पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का बन रहा बिहार का यह सबसे बड़ा मॉल है। बेली रोड स्थित यह जमीन पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनके बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव और छोटे पुत्र तेजस्वी यादव के नाम पर है। इस जमीन का सर्किल रेट 44.7 करोड़ रुपये है, लेकिन इसे लालू की कंपनी लारा प्रोजेक्ट ने वर्ष 2005-06 में महज 65 लाख रुपये में खरीदा था। मालूम हो कि मॉल की जमीन के बारे में खुलासा सबसे पहले भाजपा के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने किया था। तब उन्होंने इस जमीन पर मॉल बनने का काम शुरू होते ही इसकी मिट्टी 90 लाख रुपये में बिहार सरकार के पर्यावरण और वन विभाग को बेचने का आरोप लगाया था। रेलवे होटल टेंडर घोटाला उजागर होने के बाद सीबीआई ने राजद अध्यक्ष और उनके परिवार के 12 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की थी। इस मामले में लालू समेत आठ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई थी। राजद अध्यक्ष के बाद उनके छोटे पुत्र तेजस्वी से इस मामले में दो बार पूछताछ की गयी थी। वहीं, राबड़ी देवी से भी इस मामले में पूछताछ की जा चुकी है। राजद अध्यक्ष जब वर्ष 2006 में रेल मंत्री थे तब उन्होंने आईआरसीटीसी के होटलों के आवंटन में कथित रूप से गड़बड़ी की और होटलों के आवंटन के बदले पटना में बेशकीमती जमीन ले ली। यह जमीन आईआरसीटीसी के झारखंड के रांची एवं ओडिशा के पुरी के दो होटल को कोचर बंधुओं की निजी कंपनी (सुजाता होटल) को लीज पर सौंपने के एवज में लालू परिवार को मिली थी।

यह भी पढ़े  गांववालों पर लगातार केस करने से खफा 16 लोगों ने मिल कर की थी दो बहनों की हत्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here