लम्बे समय से विश्वामित्र की तपोभूमि बक्सर की धरती पर पांव रखने की लालसा थी:राज्यपाल

0
95

विश्वामित्र की तपोभूमि बक्सर में रामरेखा घाट पर शनिवार को देव दीपावली कार्यक्रम का राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने दीप जलाकर उद्घाटन किया। राज्यपाल सत्यपाल ने अपने संबोधन में कहा कि लम्बे समय से विश्वामित्र की तपोभूमि बक्सर की धरती पर पांव रखने की लालसा थी जो आज पूरी हो गई। यहां आकर जीवन धन्य हुआ।1राज्यपाल ने बक्सर भूमि के महत्व का वर्णन करते कहा कि जिस भूमि पर भगवान राम के चरण पड़े हैं उसका महत्व तो वैसे ही बढ़ जाता है। इस अवसर पर बक्सर सांसद सह केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, महाराजगंज के सांसद जनार्दन प्रसाद सिग्रीवाल, केरल के पूर्व मुख्य न्यायाधीश यूपी सिंह और सीताराम विवाह आश्रम के महंथ राजाराम शरण दास मंच पर अतिथि के रूप में मौजूद थे। कार्यक्रम में केरल के पूर्व मुख्य न्यायाधीश यूपी सिंह ने बक्सर के चहुमुंखी विकास की राज्यपाल से मांग के साथ ही एक मेडिकल कॉलेज स्थापित किए जाने की मांग की। केंद्रीय राज्य स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि कुछ ही दिनों पूर्व बिहार में तीन मेडिकल कॉलेज खोले जाने की स्वीकृति दे चुके हैं। इसके अलावा बक्सर समेत 11 जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने का प्रस्ताव भी दिया था। जो केंद्र सरकार द्वारा मंजूर कर लिया गया है। इसके लिए बीस एकड़ भूमि के लिए भी सरकार से मंजूरी मिल चुकी है।

यह भी पढ़े  राज्यपाल से मिले केंद्रीय कृषि मंत्री व गंगा प्रसाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here