रेलवे का तोहफा: सोने-सी चमचमाती दिखेंगी राजधानी और शताब्दी, मिलेंगी ये नई सुविधाएं

0
10

देश की 13 राजधानी एक्सप्रेस और 11 शताब्दी ट्रेनें नए साल में गोल्डेन लुक में नजर आएंगी। खुशखबरी यह है कि चयनित ट्रेनों की लिस्ट में अपनी राजेंद्र नगर-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस भी है। गोल्डेन लुक के साथ ट्रेन की बोगियों में दस नई तरह की सुविधाएं मिलने लगेंगी।

पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि रेलवे बोर्ड की स्वर्ण योजना में पटना राजधानी एक्सप्रेस को भी चयनित किया गया है। इस योजना के तहत अगले दो माह के भीतर राजधानी एक्सप्रेस की लुक बदलने के साथ बेहतर यात्री सुविधाओं से लैस कर दिया जाएगा।

इसके लिए रेलवे बोर्ड की ओर से खर्च होने वाली पूरी राशि जारी कर दी गई है। ट्रेनों को गोल्डेन लुक देने का कार्य शुरू हो गया है। दो से ढाई महीने में कार्य पूर्ण हो जाएगा।

योजना के तहत हुआ चयन 

जानकारी के मुताबिक रेलवे बोर्ड ने राजधानी और शताब्दी एक्सप्रेस को लेकर स्वर्ण योजना के तहत प्रतियोगिता का आयोजन किया था। इस प्रतियोगिता में 11 शताब्दी व 13 राजधानी एक्सप्रेस को चयनित किया गया। अब चयनित सभी 24 ट्रेनों को स्वर्ण लुक दिया जाएगा।

 

नए लुक में मिलेंगी ये सुविधाएं 

-राजधानी एक्सप्रेस के बाहर कोटेड पेंट किया जाएगा, जो डस्टप्रूफ होगा।

-ट्रेन का इंटीरियर सुनहरे रंग से रंगा होगा।

-बर्थ को और आरामदायक बनाया जाएगा।

-कोच में वाई-फाई की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।

-ट्रेन में साउंड सिस्टम होगा, जिससे अगले स्टेशन और विलंब की जानकारी दी जाएगी।

-ट्रेन की साफ-सफाई के लिए ऑन बोर्ड स्टॉफ की व्यवस्था रहेगी।

 

ट्रेन रुकी तो नहीं खुलेगा शौचालय का गेट 

-शौचालय के गेट केंद्रीयकृत लॉक होंगे। ट्रेन जब स्टेशन पर रुकेगी तो शौचालय का गेट स्वत: बंद हो जाएगा। ट्रेन के रुकने की स्थिति में शौचालय का उपयोग संभव नहीं हो सकेगा। जब ट्रेन चलेगी तो लॉक ऑटोमेटिक खुल जाएगा। ऐसा इसलिए किया गया है, ताकि ट्रेन रुकने के दौरान ट्वायलेट के उपयोग प्लेटफार्म गंदा न हो। इसके अलावा शौचालय का फर्श भी बदला जाएगा, जिसमें पानी गिरने फर्श पर गीलापन नहीं रहेगा।

यात्रियों को मिलेगा नया बेड रॉल  

पैंट्रीकार की व्यवस्था को पूरी तरह दुरुस्त रखा जाएगा ताकि यात्रियों को शिकायत न मिले। इस ट्रेन के यात्रियों को अब नया बेड रॉल दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here