राहुल को बार-बार माफी मांगनी चाहिए : मोदी

0
31
FILE PHOTO

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू ने भारत को मिलने वाली सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता ठुकरा कर चीन के चरणों में यह ताकत सौंपने की जो भारी गलती की थी, उसी का इस्तेमाल कर वह बार-बार आतंकी अजहर मसूद को बचाने में कामयाब हो रहा है। नेहरू की विदेश और रक्षा नीति की त्रासद विफलता 1962 के चीनी हमले के रूप झेलनी पड़ी। श्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि चीन पर कुछ बोलने से पहले राहुल गांधी को अपने ग्रेट ग्रैंडफादर की हिमालयी भूलों के लिए देश से बार-बार माफी मांगनी चाहिए। चीनी सेना ने जब डोकलाम में घुसने की कोशिश की, तब राहुल गांधी चीनी दूतावास के अधिकारियों से मिल रहे थे। मानसरोवर यात्रा के बहाने वे चीनी विदेश मंत्री से मिले। भारत को हेंकड़ी दिखाने की कोशिश करने वाले चीन से अगर उनका पुश्तैनी लगाव इतना गहरा है, तो वे अजहर मसूद को चीनी समर्थन के कवच से बाहर करने में अपने प्रभाव का इस्तेमाल क्यों नहीं करते। उन्हें भारत को दुखी करने वाली हर बात जिस तरह से खुश करने लगी है, उससे वे उस खलनायक की तरह बनते जा रहे हैं, जिसका यह डायलाग मशहूर हुआ था – मोगैंबो खुश हुआ।

यह भी पढ़े  सूखा पीड़ित किसानों को हरसंभव मदद:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here