राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के मौके पर मुख्यमंत्री करेंगे जल जीवन, हरियाली का शुभारंभ

0
57

 प्रदेश में जल-जीवन-हरियाली अभियान की शुरुआत राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के मौके पर दो अक्टूबर को की जायेगी। अभियान की शुरुआत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे। जल-जीवन-हरियाली के लिए 11 अवयव बनाये गये हैं। जल-जीवन-हरियाली अभियान से ग्रामीण विकास, नगर विकास एवं आवास, जल संसाधन, पंचायती राज, राजस्व एवं भूमि सुधार, कृषि विभाग, भवन निर्माण, शिक्षा, स्वास्य, सूचना एवं जनसंपर्क, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन और भवन निर्माण विभाग को जोड़ा गया है। इन विभागों को अलग-अलग कायरे की जिम्मेवारी दी गयी है। मनरेगा आयुक्त सीपी खंडूजा ने सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर जल-जीवन-हरियाली अभियान की तैयारी में जुट जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने शुक्रवार को सभी जिलाधिकारी और उप विकास आयुक्तों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग कर अभियान की तैयारी की समीक्षा की।
उसार्वजनिक तालाबों, पोखरों, आहरों एवं पईनों को चिह्नित कर अतिक्रमण मुक्त कराना।उसार्वजनिक तालाबों, पोखरों, आहरों एवं पईनों का जीर्णोद्धार।उसार्वजनिक कुओं को चिह्नित कर उनका जीर्णोद्धार।उसार्वजनिक कुओं, चापाकलों एवं नलकूपों के किनारे सोख्ता, रिचार्ज सहित जल संचयन संरचनाओं का निर्माण।उछोटी-छोटी नदियों, नालों एवं पहाड़ी क्षेत्रों के जल संग्रहण क्षेत्रों में चेकडैम एवं जल संचयन की अन्य संरचनाओं का निर्माण।उनये जल स्रेतों का सृजन एवं अधिशेष नदी जल क्षेत्र से जल कमी वाले क्षेत्रों में जल ले जाना।उभवनों में छत-वष्ा जल संचयन की संरचना का निर्माण।उपौधशाला सृजन व सघन वृक्षारोपण।उवैकल्पिक फसलों, टपकन सिंचाई, जैविक खेती एवं अन्य तकनीकों का उपयोग।उसौर ऊर्जा उपयोग को प्रोत्साहन एवं ऊर्जा की बचत।उजल-जीवन-हरियाली जागरूकता अभियान।

यह भी पढ़े  भारत बंद: अस्पताल ले जाते वक्त दो वर्षीय बच्ची की मौत, पिता बोले- 'बंद के कारण हुई देरी'

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here