राममंदिर निर्माण पर संतों की भावना स्वागतयोग्य : नित्यानंद

0
41

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय संत सम्मेलन में संतों के द्वारा प्रकट की गयी जनभावना का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर देश ही नहीं दुनिया भर के करोड़ों लोगों की जनभावना का प्रतीक है और श्रीरामजी की जन्मभूमि पर राममंदिर बने इससे किसी को ऐतराज नहीं होना चाहिए। श्री राय ने कहा कि विद्वान संतों ने देश हित में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार के लोककल्याणकारी कायरे की प्रशंसा की है और 2019 में एकबार फिर से नरेंद्र मोदी जी को देश का प्रधानमंत्री बनाने का आह्वान किया है। संतों की बात जनमानस का प्रकटीकरण है। श्री राय ने कहा कि राममंदिर के मसले पर कांग्रेस अपने गिरेबान में झांके और इस बात के लिए माफी मांगे की सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर कांग्रेस ने कभी श्रीराम जन्मभूमि के अस्तित्व को नकारने की साजिश की थी। यही नहीं कांग्रेस ने भारत एवं श्रीलंका के बीच स्थापित श्रीराम सेतु के मामले में भी यही साजिश रची। उसके अस्तित्व को नकारने की कोशिश की थी। श्री राय ने सभी संतों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि साधु-संतों ने सिर्फ धर्महित ही नहीं, देश एवं समाज हित में हमेशा योगदान किया है और बलिदान तक दिया है।

यह भी पढ़े  मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर निकाला बाइक जुलूस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here