राजद के शासन काल में बढ़ी बेरोजगारी : मोदी

0
157

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जब एनडीए सरकार ने पहली बार किसी महिला को रक्षा मंत्री बनाया, तब राहुल गांधी उनका स्वागत करने के बजाय राफेल विमान सौदे में धांधली का निराधार मुद्दा उठाकर उन्हें बदनाम करने लगे। भाजपा को महिला विरोधी बताने वालों को लोकसभा अध्यक्ष, विदेश मंत्री और कपड़ा मंत्री का पद सम्भालने वाली सम्मानित महिलाएं दिखायी नहीं देतीं। श्री मोदी ने ट्वीट जारी कर कहा कि कांग्रेस 10 साल तक महिला बिल को पारित कराने में नाकाम रही, लेकिन चुनाव करीब आते देख उन्हें महिला आरक्षण की याद आ रही है। महिला बिल विरोधी राजद के साथ धरने पर बैठने वाले महिलाओं को धोखा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजद के 15 साल के राज में उद्योग-व्यापार चौपट होने से बेरोजगारी बढ़ी, लाखों लोगों को दो जून की रोटी के लिए पलायन करना पड़ा था। जिनके शासन में गरीब परिवार के बच्चों को न स्कूलों में शिक्षा मिलती थी, न अस्पताल में दवाई। आज वे किस मुंह से इन मुद्दों पर आंदोलन की बात कर रहे हैं, जबकि हर क्षेत्र में व्यवस्था बेहतर हुई। एनडीए सरकार की साइकिल-पोशाक योजना से स्कूलों में उपस्थिति बढ़ी और बीच में पढ़ाई छोड़ने वालों की संख्या मात्र 12 फीसद रह गई। श्री मोदी ने कहा कि लालू परिवार ने केवल सम्पत्ति बनायी, कभी अच्छे शासन का मॉडल पेश नहीं किया। राज्य सरकार की सिफारिश पर मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की जांच सीबीआई कर रही है और हाईकोर्ट इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है। इस मामले में रोज कोई न कोई कार्रवाई हो रही है। मुख्य आरोपी के बैंक खाते सील किये गए। सरकार स्पीडी ट्रायल कर दोषियों को सजा दिलाने को प्रतिबद्ध है। दूसरी तरफ विपक्ष बेनामी सम्पत्ति मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए बयानबाजी कर रहा है।

यह भी पढ़े  आशाओं का ’हल्ला बोल‘‘ प्रदर्शन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here